lokayukta trap: 11 हजार रिश्वत लेते सेल्समैन का सहयोगी गिरफ्तार, सेल्समैन फरार

लोकायुक्त टीम की कार्रवाई : शहपुरा के ग्राम पिपरिया कला स्थित कृषि साख सहकारी समिति का मामला

By: Lalit kostha

Updated: 15 Sep 2021, 01:12 PM IST

जबलपुर। शहपुरा के ग्राम पिपरियाकला में संचालित कृषि साख सहकारी समिति के सेल्समैन के सहयोगी को लोकायुक्त की टीम ने मंगलवार को 11 हजार रुपए रिश्वत लेते दबोचा, जबकि सेल्समैन भाग गया। मामले में सेल्समैन को भी आरोपी बनाया गया है। सेल्समैन और उसका साथी मूंग खरीदने के एवज में किसानों से प्रति क्विंटल 400 रुपए रिश्वत लेते थे। बेलखेड़ा निवासी किसान शोभाराम ने लोकायुक्त जबलपुर टीम से शिकायत की थी कि कृषि साख समिति पिपरियाकला का सेल्समैन अंकित ठाकुर सरकारी दर पर मूंग खरीदी के एवज में 400 रुपए प्रति क्विंटल रिश्वत लेता है। अंकित ने उससे 14 हजार रुपए मांगे थे। शोभाराम ने बताया कि अंकित ने उसे पिपरियाकला स्थित शासकीय खरीदी केंद्र बुलाया है।

सूचना पर लोकायुक्त टीम ने वहां घेराबंदी की। अंकित रिश्वत लेने खुद आने के बजाय अपने सहयोगी भैरोघाट निवासी अरविंद सिंह को भेजा। शोभाराम ने अंकित के कहने पर अरविंद को 11 हजार रुपए दिए, तभी टीम ने उसे दबोच लिया। यह देख कुछ दूर खड़ा अंकित वहां से भाग गया।

यहां नायब तहसीलदार मांगते हैं पैस
किसानों से अवैध वसूली करने, महिला पटवारियों से द्विअर्थी बात करने और बरेला के नायब तहसीलदार सुरेश सोनी की कई शिकायतों को लेकर पटवारी संघ के पदधिकारियों ने मंगलवार को एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। इसमें नायब तहसीलदार के विरुद्ध अविलंब कार्रवाई की मांग की गई है। पटवारियों ने यह आरोप भी लगाया कि नायब तहसीलदार किसानों की बही और फौती नामांतरण के लिए पैसों की मांग करते हैं। उन्होंने नायब तहसीलदार सोनी के कार्यकाल में पारित राजस्व आदेशों की भी जांच कराने की मांग की है। इस दौरान पटवारी संघ के शरद दुबे, अमन चौरसिया, नीरज तिवारी, रोहित पटेल, संदीप पटेल, शिव गोपाल उइके, शिवेंद्र सिंह तेकाम, रिचा जैन, दर्शिता पांडे आदि मौजूद थे।

Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned