भैंसा पर सवार होकर आ रही संक्रान्ति, राशियों के अनुसार ये वस्तुएं करें दान

भैंसा पर सवार होकर आ रही संक्रान्ति, राशियों के अनुसार ये वस्तुएं करें दान

deepak deewan | Publish: Jan, 14 2018 10:07:59 AM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

इस बार संक्रान्ति का वाहन महिष है। इसका उपवाहन ऊंट है

जबलपुर- संस्कारधानी में रविवार को सुबह से ही नर्मदाघाटों पर गहमागहमी है। मकर संक्रांति पर्व पर स्नान और दानपुण्य करने लोग आ रहे हैं। इस बार की संक्रांति विशेष बन गया है। ज्योतिषाचार्य दीपक दीक्षित के अनुसार शुभ संवत 2074 माघ कृष्ण त्रयोदशी रविवार को मध्यान्ह 1 बजकर 15 मिनट पर चंद्र नक्षत्र मूल धु्रव योग तात्कालिक वणिज करण धनु राशिस्थ चंद्रमा एवं वृषभ लग्न में भगवान भुवन भास्कर सूर्यनारायण देवता का मकर राशि में प्रवेश होगा। इस बार संक्रान्ति का वाहन महिष है। इसका उपवाहन ऊंट है। वार का नाम घोरा है। जो शासन के द्वारा अन्य तबकों को सहयोग पहुंचाने वाला साबित होगा।

संक्राति काल का है ये महत्व
उ त्तरायण के सूर्य की प्रतीक्षा करते हुए भरतवंशी भीष्म ने देह का त्याग किया था। उत्तरायण के सूर्य की अनन्य कथाएं प्रचलित है। उनमें से श्रीमद्भागवत में भगवान श्रीकृष्ण के द्वारा अर्जुन को दिए गए गीतोपदेश में सूर्य की साधना तथा जैविक सफलता एवं आध्यात्मिक रहस्य को समझने के लिए दिशा निर्देशित किया है। यही कारण है कि मकर पर्वकाल में भागवत सप्ताह का पारायण श्रवण करना अत्यन्त पुण्यकारक माना गया है। शास्त्रों में भी उत्तरायण काल को शुभ और मंगलकारी बताया गया है।

राशियों के अनुसार यह करें दान
संक्रांति पर पवित्र नदियों में स्नान के साथ ही दान का भी महत्व है। इस मौके पर विशेष रूप से तिल से बनी वस्तुओं और खिचड़ी का दान किया जाता है। ज्योतिषि पंडित नरेंद्र श्रोती के अनुसार अलग-अलग राशियों के अनुसार अलग-अलग वस्तुएं दान देने से विशेष लाभ मिलता है।


मेष : अन्न, वस्त्र, गाय को चारे का दान।
वृषभ : भिक्षुकों को भोजन व रोगियों को औषधि का दान।
मिथुन : आश्रम में हरी सब्जियों का दान।
कर्क : श्वेत वस्त्र एवं सफेद तिल का दान।
सिंह : विभिन्न दालें एवं ऊनी वस्त्र का दान।
कन्या : धार्मिक पुस्तकें, कुश आसन का दान।
तुला : पंचपात्र या तांबे के सूर्य का दान।
वृश्चिक : सूती पीला वस्त्र एवं खाद्य वस्तु का दान।
धनु : जौ, तिल, दुग्ध, हरा मंूग, चावल आदि का दान।
मकर : लौह पात्र, लकड़ी से निर्मित आसन, घृत पदार्थ का दान।
कुंभ : वस्त्र, ऊनी वस्त्र, कंबल छाता, पुस्तकें आदि का दान।
मीन : फल, सब्जी, अन्न, दुग्ध वस्त्र आदि का दान।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned