scriptSatish's relationship with 'D' company | ‘डी’ कम्पनी से सतीश के रिश्ते, सट्टे की कमाई खपाने के लिए बनाई फर्म | Patrika News

‘डी’ कम्पनी से सतीश के रिश्ते, सट्टे की कमाई खपाने के लिए बनाई फर्म

अतिक्रमण हटाने के बाद पुलिस खंगाल रही सतीश और उसके गुर्गों की कुंडली

जबलपुर

Updated: May 18, 2022 09:20:21 pm

जबलपुर . दुबई में बैठे सटोरिए सतीश सनपाल के डी कम्पनी से रिश्ते होने की बात भी सामने आई है। वह दुबई में कई बार डी कम्पनी के आयोजनों में भी शामिल हो चुका है। जानकारी यह भी है कि फूटाताल निवासी आजम को भी इन कार्यक्रमों में देखा गया था। इधर, सतीश के कई बड़े क्रिकेटरों से सम्बंध होने की जानकारी भी पुलिस को मिली है। इसके बाद यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि सतीश इन क्रिकेटरों के जरिए मैच भी फिक्स करता था। पुलिस उसके आइडियल स्टेट स्थित घर पर अतिक्रमण की कार्रवाई के बाद उसके गुर्गों की कुंडली खंगाल रही है। शहर में उसके द्वारा संचालित विभिन्न धंधों का ब्योरा भी जुटाया जा रहा है।
photo_2022-05-18_21-18-49.jpg
satish sanpal
यह है मामला

मदन महल पुलिस ने 23 अप्रेल को होमसाइंस कॉलेज के पास दबिश देकर फूटाताल निवासी दीपक पटेल और होमसाइंस कॉलेज के पीछे रहने वाले सुनील ठाकुर को पकड़ा था। वे मोबाइल ऐप के माध्यम से सट्टा लिख रहे थे। आरोपियों से एक टीवी, एक सेटटॉप बॉक्स, एक कैलकुलेटर, बाइक एमपी 20 एनटी 5786 और 1790 रुपए समेत लाखों का हिसाब-किताब जब्त किया गया था। पुलिस पूछताछ में सुनील और दीपक ने बताया कि वे फूटाताल निवासी आजम खान और निक्की जैन के लिए काम करते थे। सट्टे में उनका नाम न आए, इसलिए आजम और निक्की दोनों से वॉटस ऐप कॉल या मैसेज के जरिए बात करते थे।
फर्म की भी मिली जानकारी

पुलिस को जांच के दौरान पता चला है कि सट्टे से होने वाली काली कमाई को सफेद बनाने के लिए सतीश ने कई फर्में खोल रखी हैं। उसने इनमें से एक फर्म का पंजीयन 17 दिसम्बर, 2012 को कराया था। इसमें गुरमुख आहूजा और सतीश समेत छह सदस्य थे। बाद में सतीश समेत एक अन्य सदस्य ने फर्म से इस्तीफा दिया। इसके बाद सोनिया सनपाल फर्म में शामिल हुई थी। पुलिस रजिस्टर एवं फर्म संस्था से इस फर्म की जानकारी जुटा रही है। जानकारी मिलने के बाद गुरमुख और सोनिया सनपाल समेत अन्य सदस्यों से पूछताछ की जाएगी।
महाराष्ट्र में है दिलीप, पंजू पर नजर

पुलिस के अनुसार आइपीएल शुरू होने के बाद से दिलीप खत्री महाराष्ट्र में है। वह वहां रहकर जबलपुर में सट्टा संचालित कर रहा है। वहीं से सट्टा खेलने वालों को आइडी मुहैया करा रहा है। रकम के लेनदेन के लिए दिलीप ने शहर में कई लड़कें रखे हैं। बड़ी रकम वह सीधे एकाउंट में ट्रांसफर करा रहा है। इधर, पुलिस ने हवाला कारोबारी पंजू पर भी नजरें टेढ़ी कर ली हैं। पंजू के जरिए ही सतीश तक हवाला की बड़ी रकंम पहुंचती है।
आजम लगाता था प्रॉपर्टी में पैसा

पुलिस को यह भी जानकारी लगी है कि सतीश का खास गुर्गा आजम उसके काले धन को सफेद करने के लिए शहर की प्रॉपर्टियों में पैसे लगाता था। सतीश, उसके परिजन और करीबियों के नाम पर कई प्रॉपर्टी के रजिस्टर्ड होने के सबूत भी पुलिस को मिले हैं। पुलिस जांच कर रही है।
सतीश की ओर से सरकारी जमीन पर किए गए अवैध कब्जे को ढहा दिया गया है। उससे जुड़े कुछ और तथ्य पुलिस के हाथ लगे हैं। सभी की जांच की जा रही है। उसके सभी गुर्गों पर पुलिस की नजर है। उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।
सिद्धार्थ बहुगुणा, एसपी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर: एकनाथ शिंदे ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएमMaharashtra Politics: बीजेपी ने मौका मिलने के बावजूद एकनाथ शिंदे को क्यों बनाया सीएम? फडणवीस को सत्ता से दूर रखने की वजह कहीं ये तो नहीं!भारत के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड को मिला नया कप्तान, दिग्गज को मिली बड़ी जिम्मेदारीAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शरद पवार ने किया बड़ा दावा- फडणवीस डिप्टी सीएम बनकर नहीं थे खुश, लेकिन RSS से होने के नाते आदेश मानाUdaipur Murder: आरोपियों को लेकर एनआईए ने किया बड़ा खुलासा, बढ़ी राजस्थान पुलिस की मुश्किल'इज ऑफ डूइंग बिजनेस' के मामले में 7 राज्यों ने किया बढ़िया प्रदर्शन, जानें किस राज्य ने हासिल किया पहला रैंक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.