पहले से ही गरीब हैं यहां के सरकारी स्कूल, अब बिजली कनेक्शन लेकर ट्रांसफॉर्मर भी लगाना पड़ेगा

जबलपुर में विद्युत वितरण कम्पनी ने बिजली संयोजन के लिए किया दरों का निर्धारण

 

By: shyam bihari

Published: 12 Jul 2021, 07:52 PM IST

 

इतनी राशि होगी खर्च
4,506 रुपए बिना निम्न दाब पोल
16,598 रुपए एक नंबर निम्न दाब पोल
28,690 रुपए दो नंबर पोल
40,782 रुपए तीन नंबर पोल
52,875 रुपए चार नंबर पोल
64,967 रुपए पांच नंबर पोल
77,059 रुपए छह नंबर निम्नदाब पोल

जबलपुर। पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कम्पनी ने शासकीय स्कूलों में बिजली संयोजन के लिए दरों का निर्धारण कर दिया है। इसके तहत अब स्कूल भवन तक सर्विस लाइन खींचने के लिए पहले से ज्यादा शुल्क अदा करना पड़ेगा। जबकि स्कूलों को शासन की ओर से दी जाने वाली राशि लम्बे समय से नहीं बढ़ाई गई है। स्कूल शिक्षा विभाग ऐसे स्कूलों की जानकारी जुटा रहा है, जहां बिजली कनेक्शन नहीं हैं। जानकारों के अनुसार स्कूल भवन की दूरी 300 मीटर होने पर 11 केवी लाइन में वितरण (डिस्ट्रीब्यूशन) ट्रांसफॉर्मर भी लगवाना पड़ेगा। इसका खर्च भी स्कूलों को ही वहन करना होगा। जिले में अधिकतर शासकीय स्कूल ग्रामीण क्षेत्रों में हैं। कुंडम, सिहोरा, मझौली में कई स्कूल मुख्य लाइन से 2 से 3 किलोमीटर दूर हैं।

जिले में 2258 प्राथमिक और माध्यमिक स्कूल हैं। शासन की ओर से प्राथमिक स्कूलों को 7 हजार रुपए और माध्यमिक स्कूलों को 10 हजार रुपए देने का प्रावधान है। यह राशि लम्बे समय से बढ़ाई नहीं गई है। कई स्कूल ऐसे भी हैं, जिन्हें अभी तक राशि जारी नहीं की गई है। शहर वृत्त के कार्यपालन अभियंता हिमांशु अग्रवाल ने बताया कि स्कूलों में विद्युत संयोजन के लिए दरों का निर्धारण किया गया है। दूरी के हिसाब से यह राशि तय की जाती है। आवश्यकता होने पर ही ट्रांसफॉर्मर लगाने का प्रावधान किया जाएगा। बिजली कनेक्शन के लिए स्कूल सम्बंधित डिवीजन में आवेदन दे सकते हैं।

shyam bihari Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned