शरद पूर्णिमा पर कर लें इस नदी में स्नान, नहीं होगी पैसों की कमी, परेशानियां हो जाएंगी दूर

शरद पूर्णिमा पर कर लें इस नदी में स्नान, नहीं होगी पैसों की कमी, परेशानियां हो जाएंगी दूर
sharad purnima par dhan prapti ke upay

Lalit Kumar Kosta | Updated: 12 Oct 2019, 09:53:56 AM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

शरद पूर्णिमा पर कर लें इस नदी में स्नान, नहीं होगी पैसों की कमी, परेशानियां हो जाएंगी दूर

 

जबलपुर. सनातन धर्म संस्कृति में शरद पूर्णिमा का विशेष महत्व है, यह रविवार को है। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार यदि शरद पूर्णिमा को मां नर्मदा के जल में स्नान किया जाए और दान पुण्य किया जाए तो घर में कभी पैसों की कमी नहीं रहती है। इसके साथ ही परेशानियों का क्षरण होता है, खुशियों का आगमन होता है। मां नर्मदा अपने जल से समस्त परेशानियां दूर कर देती हैं। इसी मान्यता के चलते लोग बड़ी संख्या में नर्मदा स्नान करने पहुंचते हैं। इस दिन काफी संख्या में लोग नर्मदा तीर्थ में स्नान-दान कर पुण्यार्जन करेंगे। धार्मिक अनुष्ठान किए जाएंगे। इसी दिन से एक माह के कार्तिक स्नान का व्रत भी प्रारंभ होगा।

युवक के शरीर में घुस गए 51 त्रिशूल,जवारा जुलूस में शामिल लोग देखकर दंग: देखें वीडियो

नर्मदा तीर्थ में होंगे स्नान-दान, अनुष्ठान

ज्योतिर्विद जनार्दन शुक्ला के अनुसार शरद पूर्णिमा का धार्मिक महत्व है। हर माह की पूर्णिमा को लोग पुण्यार्जन करते हैं, लेकिन आश्विन की पूर्णिमा श्रेष्ठ मानी जाती है। चन्द्रमा 16 कलाओं से सम्पूर्ण होकर रोशनी बिखेरता है। लोग रात में जागरण और भजन कीर्तन करते हैं। शरद पूर्णिमा की रात खीर या पेड़ा बनाकर घर के बाहर सुरक्षित स्थान पर रखा जाता है। मान्यता है कि पूर्णिमा की रात में खीर में औषधीय तत्व मिल जाते हैं। इस रात महालक्ष्मी भ्रमण करती हैं और भजन कीर्तन करने वाले भक्तों पर कृपा बरसाती हैं।

यहां चंदा जुटाकर होता है सरकारी आयोजन, सरकार का ये मंत्रालय हर साल दिखाता है ठेंगा

कार्तिक व्रत का प्रारम्भधार्मिक दृष्टि से कार्तिक माह महत्वपूर्ण है। भगवान श्रीकृष्ण ने शरद पूर्णिमा को महारास रचाया था। पूर्णिमा के दिन ही महिलाएं कार्तिक माह का व्रत प्रारम्भ करती हैं। भगवान श्रीकृष्ण की सखी बनकर एक माह उपासना करने की धार्मिक परम्परा है। खीर के प्रसाद का होगा वितरणशरद पूर्णिमा को आयुर्वेदिक संस्थानों में औषधीय खीर का वितरण किया जाता है। जबकि, धर्मप्रेमी लोग खीर का प्रसाद वितरित कर पुण्य की प्राप्ति करते हैं। इस रात में लोग छतों पर समय बिताकर सुख-समृद्धि की कामना करते हैं।

#LIVE दुनिया में ऐसा दशहरा और दुर्गा पूजा कहीं नहीं होती, 10 दिनों तक पूरा शहर जगता है

कल होगा औषधीय खीर का वितरण
शरद पूर्णिमा के अवसर पर रविवार को द्वादस ज्योर्तिलिंग पिपलेश्वर महादेव मंदिर हाथीताल में औषधीय खीर का वितरण किया जाएगा। बाल मुकुंद शास्त्री ने बताया, दमा रोगियों के लिए खीर वितरित की जाएगी। साथ ही इस मौके पर कुछ दिनों के लिए परहेज भी बताए जाएंगे।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned