#sharp shooter शार्प शूटर है ये लड़कियां, नहीं चूकता निशाना, टारगेट को कर देती है छलनी

#sharp shooter शार्प शूटर है ये लड़कियां, नहीं चूकता निशाना, टारगेट को कर देती है छलनी
sharp shooters

Virendra Kumar Rajak | Updated: 09 Oct 2019, 08:13:26 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

एयरगन और पिस्टल चलाने में हैं माहिर

जबलपुर, हाथों में पिस्टल और टागरेट पर निशाना। सांसें थामकर जब इन बच्चों की उंगली ट्रिगर दबाती है, तो टारगेट छलनी होकर जमीन पर गिर जाता है। पिस्टल हो या फिर एयर गन, इन्हें चलाने में ये बच्चे माहिर हो चुके हैं, यही कारण हैं कि इन्हें अब शार्प शूटर्स कहा जाने लगा है। हम बात कर रहे हैं भारत के हृदय स्थल मध्य प्रदेश के जबलपुर शहर की। जहां शूटिंग एकेडमी के बच्चे एक के बाद एक कॉम्प्टीशन जीत रहे हैं।
65वीं स्कूल स्टेट राइफल शूटिंग टूर्नामेंट का आयोजन भोपाल के टीटी नगर में आयोजित किया गया। 28 सितम्बर से दो अक्टूबर तक आयोजित टूर्नामेंट में जबलपुर संभाग के 47 शालेय छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया, जिनमें शामिल 29 गन फॉर ग्लोरी के शूटर्स में से सात ने विभिन्न पदक जीते।
ओपन साइट बालिका वर्ग अंडर 14 में आर्ना राजपूत ने कांस्य, पीप साइट बालिका वर्ग अंडर 14 में आन्वी भारद्वाज ने स्वर्ण, पीप साइट बालिका अंडर 17 में बनीश खान ने स्वर्ण, पीप साइट बालिका वर्ग अंडर 19 में श्रेयांशी नेमा ने रजत, पीप साइट ब्वॉयज अंडर 17 में दिव्यम मिश्रा ने रजत, पिस्टल बालिका वर्ग अंडर 14 में प्रथा देवांगन ने स्वर्ण और पिस्टल बालिका वर्ग अंडर 19 में सुहानी गर्ग ने स्वर्ण पदक जीता। यह खिलाड़ी कोच निशांत नाथवानी, अस्सिटेंट कोच अनुज रतन प्रभा, शक्तिचक्रवर्ती व आशुतोष रिछारिया से प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। इन शूटर्स का चयन एसजीआईएफ की नेशनल प्रतियोगिता के लिए हो गया है। वहां प्रदर्शन के आधार पर उक्त खिलाडिय़ों को खेलो इंडिया के लिए भी चयनित होने का अवसर मिलेगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned