smart city in india : सड़क चौड़ीकरण के बाद भी वाहनों के निकलने के लिए रहेगी सिर्फ 20 फीटी जगह, ऐसी बनेगी पहली स्मार्ट रोड

60 फीट की चौड़ी सड़क के बड़े हिस्से में आकार लेगा साइकिल ट्रैक, फुटपाथ, ग्रीन कॉरीडोर और अंडरग्राउंड ड्रेनेज सिस्टम

By: deepankar roy

Published: 11 Dec 2017, 01:28 PM IST

जबलपुर। स्मार्ट सिटी की घोषणा के बाद दिखाएं गए स्मार्ट सड़क की तरफ शहर ने कदम आगे बढ़ा दिए है। शहर की पहली स्मार्ट सड़क का खाका तैयार होने के बाद उसके निर्माण की उल्टी की गिनती शुरू हो गई है। लेकिन हैरानी वाली बात ये है कि शहर की पहली स्मार्ट सड़क का कायाकल्प होने के बाद भी उसमें वाहनों को चलने के लिए पहले के मुकाबले ज्यादा जगह नहीं मिलेगी। बल्कि सड़क की चौड़ाई तकरीबन उतनी ही रहेगी जितनी कि फिलहाल है। ऐसा स्मार्ट सड़क की डिजाइन के कारण हो रहा है। नई डिजाइन में सड़क की चौड़ाई तो बढ़ जाएगी लेकिन वाहनों को चलने के लिए अतिरिक्त जगह नहीं मिलेगी।

60 फीट की चौड़ाई
स्मार्ट सिटी के अंतर्गत एमएलबी स्कूल से सत्कार होटल और तीन पत्ती से गौमाता चौक तक पहली स्मार्ट सड़क का निर्माण होना है। फिलहाल इस सड़क पर करीब 20 फीट की जगह है, जिस पर यातायात चलता है। नई स्मार्ट सड़क को ६० फीट चौड़ा बनाया जा रहा है। प्रस्ताव के मुताबिक इस 60 फीट चौड़ी स्मार्ट सड़क पर साइकिल ट्रैक, फुटपाथ और अंडरग्राउंड नालियां बनाया जाना है। इन सभी के निर्माण ही में करीब 35-40 फीट का हिस्सा निकल जाएगा।

ग्रीन कॉरीडोर भी होगा
स्मार्ट सड़क के प्रस्तावित के मुताबिक सड़क के दोनों ओर 2-2 मीटर के साइकिल ट्रैक और पाथवे बनाए जाएंगे। सड़क के दोनों ओर ग्रीन कॉरीडोर भी तैयार करने की योजना है। इसके अलावा अन्य अंडरग्राउंड उपाए भी सड़क के बड़े हिस्से में होंगे। ऐसे में नई स्मार्ट सड़क के निर्माण के बाद उसमें चलने के लिए करीब २० फीट की ही जगह मिल पाएगी।

80 फीट से 60 फीट हुई
स्मार्ट सिटी की पहली स्मार्ट सड़क 80 फीट चौड़ी बनाने का प्रस्ताव था। लेकिन सड़क किनारे रहने वाले प्रभावशाली लोगों के विरोध के बाद स्मार्ट सड़क की योजना में बदलाव किया गया। हवाला दिया गया कि मास्टर प्लान में सड़क की चौड़ाई 60 फीट ही दी गई है इसलिए इसे चौड़ा करना संभव नहीं है। विरोध और मास्टर प्लान की पेंच के बाद सड़क की चौड़ाई कम कर दी गई है।

दोबारा टेंडर के बाद काम शुरू
स्मार्ट सिटी प्राइवेट लिमिटेड ने पहले 80 फीट चौड़ी सड़क के निर्माण का टेंडर निकाला। निविदा प्रक्रिया पूरी होने के बाद महापौर ने भूमिपूजन भी कर दिया। लेकिन जैसे ही विरोध के स्वर तेज हुए तो स्मार्ट सड़क की योजना बदल दी गई। अब दोबारा 60 फीट चौड़ी सड़क के टेंडर किए गए है। जिसकी प्रक्रिया पूरी होने के बाद अब दोनों ओर अतिक्रमणों को हटाने की कवायद की जा रही है। जिसके बाद सड़क का निर्माण शुरू कर दिया जाएगा।

deepankar roy Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned