सांप के साथ अस्पताल पहुंचे, डॉक्टर बोले चूहा काटा और मोबाइल पर चैटिंग करने लगे, आंखों के सामने ही युवक ने दम तोड़ दिया

सांप के साथ अस्पताल पहुंचे, डॉक्टर बोले चूहा काटा और मोबाइल पर चैटिंग करने लगे, आंखों के सामने ही युवक ने दम तोड़ दिया
Snake bite

Deepankar Roy | Updated: 13 Sep 2019, 11:20:02 AM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

युवक की मौत के बाद पीडि़त के परिचितों ने हंगामा किया। उपचार में लापरवाही का आरोप लगाया। कलेक्ट्रेट में शिकायत सौंपी। प्रशासन के निर्देश पर मृतक का पीएम कराया गया है। मामले की जांच के निर्देश दिए है।

जबलपुर. सरकारी अस्पताल में देर रात होने वाली अराजकता का एक और नमूना सामने आया है। विजय नगर निवासी एक युवक को बुधवार देर रात सांप ने डस लिया। परिजन ने सांप को पकड़ लिया। सर्पदंश पीडि़त के साथ ही जिंदा सांप को लेकर बुधवार की रात को एक बजे के करीब विक्टोरिया अस्पताल पहुंचे। ड्यूटी डॉक्टर ने जांच के बाद मरीज को चूहा के काटने की बात कही। इस पर पीडि़त के साथ युवकों ने काटने वाले जिंदा सांप को डॉक्टर को दिखाया। लेकिन अस्पताल के स्टाफ ने सर्पदंश की बात को नकार दिया। ड्यूटी डॉक्टर और नर्स मोबाइल पर चैटिंग में लग गए। तीन घंटे के बाद युवक की मौत हो गई। उसके बाद पीडि़त के परिचितों ने हंगामा किया। उपचार में लापरवाही का आरोप लगाया। कलेक्ट्रेट में शिकायत सौंपी। प्रशासन के निर्देश पर मृतक का पीएम कराया गया है। मामले की जांच के निर्देश दिए है।

ये है मामला
विजय नगर निवासी रवि नेमा, राकेश अहिरवार, रीतेश पटेल के अनुसार नब्बे क्वार्टर निवासी शिवम गुप्ता (22) को बुधवार रात 12 से 1 बजे के बीच सांप ने डस लिया। वे उसे विक्टोरिया अस्पताल ले गए। ड्यूटी डॉक्टर ने जांच के बाद कहा, चूहे ने काटा है। उसे वार्ड-5 में भर्ती कर दिया गया। परिजन का आरोप है कि डॉक्टर ने सांप के डसने का इलाज नहीं किया। दो घंटे बाद शिवम की तबीयत बिगडऩे लगी। डॉक्टर को बुलाने गए तो उन्होंने आने से मना कर दिया और चादर ओढकऱ सो गए। स्टाफ ने भी जांच नहीं की। सुबह करीब चार बजे शिवम की मौत हो गई।

मौत के बाद लगाया इंजेक्शन

शिवम के परिचितों का आरोप है कि रात तीन बजे शिवम बेहोश हो गया। उसका शरीर ठंडा पडऩे लगा। स्टाफ को जानकारी देने पर ड्यूटी डॉक्टर आए। शिवम को कई इंजेक्शन लगाए गए। तीन बोतल भी चढ़ाई। मौत के बाद स्टाफ एक कमरे में चला गया। बुलाने पर भी कोई नहीं आया तो सिविल सर्जन और सीएमओ से शिकायत की। कलेक्ट्रेट में भी मामले की जांच के लिए शिकायत की है।

परिवार को पालने की थी जिम्मेदारी
शिवम के परिचितों ने बताया कि वह घर में बड़ा था। उसके बूढ़े माता-पिता और छोटा भाई (15) और बहन (19) है। वह कचनार सिटी गेट के पास चाय की दुकान लगाता था। जवान की बेटे की मौत की खबर से पिता अशोक गुप्ता सदमे में हैं। उन्होंने रोते हुए कहा, अब उनकी बेटी के हाथ कैसे पीले होंगे। छोटे बेटे की परिवरिश की जिम्मेदारी भी शिवम ही निभा रहा था।

पीएम हुआ, जांच होगी
सीएमएचओ डॉ. मनीष मिश्रा के अनुसार रात में एक मरीज को भर्ती किया गया था। उसे प्राथमिक इलाज भी दिया गया था। सुबह मरीज की मौत हो गई। परिजन ने इलाज में लापरवाही की शिकायत की है। मृतक का पीएम कराया गया है। मौत के कारणों की जांच कराई जा रही है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned