पहाड़ी राज्यों में बर्फबारी से फिर बढ़ी सर्दी, चौबीस घटे में 2.6 डिग्री लुढक़ा पारा

पारा सामान्य से चार डिग्री नीचे पहुंचा

By: deepankar roy

Published: 18 Feb 2020, 12:06 AM IST

जबलपुर. पहाड़ी राज्यों में बर्फबारी से सोमवार को सर्दी फिर बढ़ गई। हिमालय की वादियों से टकराकर आ रही ठंडी हवा दिन भर चली। इससे सुबह सर्द रही। पारा सामान्य से चार डिग्री नीचे चला गया। अपेक्षाकृत तेज गति से चली सर्द हवा के संपर्क में आने पर सिहरन हुई। दोपहर को धूप गुनगुनी महसूस हुई। सूरज चढऩे के साथ ही हवा की तेज चाल बनी रहने से सर्दी का असर बना रहा। शाम के बाद मौसम में और ठंड घुली। देर रात तक सर्दी का प्रभाव बढ़ गया।

उमरिया, बैतूल सबसे ठंडे

मौसम विज्ञान केंद्र में वैज्ञानिक सहायक देवेंद्र कुमार तिवारी के अनुसार मंगलवार को मौसम शुष्क बना रहने की सम्भावना है। अधारताल स्थित मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार सोमवार को अधिकतम तापमान 27.9 डिग्री सेल्सियस रेकॉर्ड हुआ। यह सामान्य से एक डिग्री कम था। न्यूनतम तापमान 9.4 डिग्री रेकॉर्ड हुआ। न्यूनतम तापमान में चौबीस घंटे में 2.6 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई है। रविवार (12) के मुकाबले न्यूनतम तापमान लुढककऱ सोमवार को 9.4 डिग्री पर पहुंच गया। यह सामान्य से चार डिग्री कम था। आद्र्रता सुबह के समय 64 प्रतिशत और शाम को 27 प्रतिशत थी। उत्तर-पूर्वी हवा चार किमी प्रतिघंटा की औसत गति से चलीं। प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान उमरिया एवं बैतूल में छह डिग्री सेल्सियस रेकॉर्ड किया गया है।

एक सप्ताह बाद माइनस फोर

पश्चिमी विक्षोभ और हल्के बादलों के असर से करीब एक सप्ताह से सर्दी कम थी। 10 फरवरी को न्यूनतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री कम सात डिग्री सेल्सियस रेकॉर्ड हुआ था। उसके करीब एक सप्ताह बाद दोबारा पारा सामान्य से करीब चार डिग्री नीचे पहुंचा है। न्यूनतम तापमान के सामान्य से चार डिग्री नीचे होने और उत्तरी हवा के आने से मौसम सर्द बन गया है।

Weather forecast
deepankar roy Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned