murder-करंट लगाकर दामाद की हत्या,फिर एेसे खुला राज

murder-करंट लगाकर दामाद की हत्या,फिर एेसे खुला राज
करंट से दामाद की मौत

Santosh Kumar Singh | Updated: 23 Aug 2019, 12:23:40 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

ससुराल वालों ने की थी दामाद की हत्या
बेलखेड़ा थाना क्षेत्र की घटना
ससुर के खेत में मिला था शव
करंट से झुलसा कर की गई थी हत्या
हत्या को हादसे का दे दिया था स्वरूप
मोबाइल कॉल डिटेल से खुलासा
ससुर सहित छह हिरासत में

जबलपुर. बेलखेड़ा थाना अंतर्गत मैली गांव निवासी भगवानदास लोधी (40) की murder की गई थी। मारपीट के बाद उसे electric shock लगाकर मारा गया था। हत्या को हादसा साबित करने के लिए आरोपियों ने शव को खेत में लगे बिजली ट्रांसफार्मर के पास फेंक दिया था। पुलिस ने मामले में मृतक के ससुर और एक महिला सहित छह लोगों को हिरासत में लिया है। पुलिस ने मर्ग को हत्या में तब्दील करने की कवायद शुरू कर दी है।
ये थी घटना
मैली गांव निवासी भगवानदास लोधी गांव के भोला सिंह के साथ 26 जुलाई की रात 7.30 बजे पत्नी से भैरोघाट जाने की बात कहकर निकला था। 27 जुलाई को उसकी लाश घर से 20 किमी दूर मातनपुर और बिहारीपुरा गांव के बीच उसके ससुर रतन सिंह के खेत में मिली थी। शरीर पर करंट से झुलसने के निशान थे। पुलिस ने इसे हादसा बताया था, लेकिन मृतक का भार्ई सुल्तान पहले दिन से हत्या की आशंका जाता रहा था। उसने ससुराल वालों पर हत्या करने का संदेह भी जताया था।
ऐसे हुआ खुलासा
पुलिस ने मैली गांव निवासी भोला के बयान और भगवानदास के mobile call detail को खंगाला। दोनों से पुष्टि हुई कि भगवानदास ससुराल की एक महिला के फोन करने पर गया था। इसके बाद अगले दिन उसकी लाश मिली। पुलिस ने मामले में भगवानदास की ससुराल की उक्त महिला को बयान के लिए बुलाया तो हत्या का खुलासा हुआ।

ये भी पढ़ें-टीवी खोलते ही बिजली का तेज करंट लग गया


भोला को थी murder की जानकारी
पुलिस सूत्रों के मुताबिक भोला को पूरे प्रकरण की जानकारी थी। भोला ने पुलिस को बताया था कि वह गांव के बाहर भगवानदास का इंतजार कर रहा था। जांच में पता चला कि घटना के समय वह मौके पर था। भगवानदास के साथ मारपीट होती देख वह डरकर भाग गया था।

ये भी पढ़ें-Attempt to murder-महिला के सिर पर पत्थर पटका


प्रॉपर्टी विवाद आ रहा कारण
सूत्रों के अनुसार पुलिस ने मामले में भगवानदास के ससुर रतन सिंह, बेटा ईश्वर पटेल, बहू हल्कोरा, दूसरे बेटे लक्ष्मन, भतीजे बहादुर और नौकर मल्ला को हिरासत में लिया है। पूछताछ में संदेहियों ने बताया कि हल्कोरा एक महीने तक भगवानदास के यहां रह चुकी है। वह पति ईश्वर के साथ ससुर से अलग रहना चाहती थी। जायदाद के बंटवारे को लेकर ससुर और अन्य लोग उससे मारपीट करते थे। रिश्तेदारी के चलते भगवानदास वहां गया था।

 

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned