SP अमित सिंह पिता से बोले: मासूम को खरोंच भी आई तो उलटा लटका दूंगा

पिता ने फूल सी बेटी की जान लेने की कोशिश की, मां बनी ढाल, पांच महीने की बेटी को लेकर पहुंची महिला ने लगाई गुहार

 

 

By: Lalit kostha

Published: 02 Oct 2019, 11:05 AM IST

जबलपुर/ ‘इस फूल सी मासूम को खरोंच भी आई, तो उलटा लटका दूंगा, आखिर इसे मारने की सोच भी कैस सकते हों, बेटे से कहीं अधिक बेटियां पिता का खयाल रखती हैं।’ मंगलवार को जनसुनवाई में एसपी के सामने पांच महीने की बेटी को लेकर पहुंची महिला की आपबीती सुनने के बाद उसके पति को बुलाकर सख्त लहजे में चेताया। दरअसल उसे बेटे की चाहत थी। बेटी हुई, तो उसने उसे मारने की कोशिश की। इसके बाद से महिला बेटी को लेकर मायके में रहने को मजबूर है। बच्ची के पिता को एसपी ने सख्ती के साथ ही बेटियों का महत्व भी बताया। उन्होंने जीवन देने वाली नारी शक्ति की परिभाषा बताकर उसे बच्चियों के प्रति सम्मान रखने के लिए प्रेरित भी किया।

नवनिवेश कॉलोनी संजीवनी नगर निवासी प्रीति रजक दोपहर एक बजे पांच महीने की बेटी वैष्णवी को लेकर एसपी के पास पहुंची। बताया कि उसकी शादी 11 मई 2018 को मनीष रजक के साथ हुई थी। शादी के बाद से ही वे कम दहेज को लेकर पति सहित सास, ससुर, ननद व देवर प्रताडि़त करने लगे। वे उस पर 50 हजार रुपए और बाइक की मांग का दबाव डालते थे। पांच महीने पहले बेटी हुई तो परिवार वालों की प्रताडऩा और बढ़ गई। बेटी को जान से मारना चाहते हैं। पति ने उसे ससुराल छोड़ दिया है। एसपी ने मौके पर ही उसके पति मनीष को बुलवाया। उसे फटकार लगायी और बेटी सहित पत्नी को अच्छे से रखने की हिदायत दी।

Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned