Human story-हत्यारे पिता के साये से दूर वर्दी की छांव में पलेगी-पढ़ेगी प्रीति

Human story-हत्यारे पिता के साये से दूर वर्दी की छांव में पलेगी-पढ़ेगी प्रीति
हत्यारे पिता के साये से दूर वर्दी की छांव में पलेगी-पढ़ेगी प्रीति

Santosh Kumar Singh | Publish: Jul, 26 2019 12:02:35 PM (IST) | Updated: Jul, 26 2019 12:49:06 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

रूपाली की बड़ी बहन प्रीति को पढ़ाएंगे एसपी, उसके रहने से लेकर पढ़ाई-लिखायी की उठाएंगे जिम्मेदारी

जबलपुर. शराब के नशे में धुत पिता द्वारा डेढ़ साल की मासूम रूपाली हत्या की चश्मदीद बड़ी बहन प्रीति की पढ़ाई की जिम्मेदारी एसपी अमित सिंह उठाएंगे। प्रीति को स्नेह नगर स्थित एक निजी संस्थान में रखा गया है। वहां उसके रहने, खाने से लेकर सारा खर्च वे वहन करेंगे। रूपाली की अन्य दोनों बहनें मां के साथ हैं। एसपी ने कहा कि हर रविवार को प्रीति उनके बंगले पर रहेगी। जहां मेरे बच्चों के साथ मेरी बेटी बनकर खेलेगी।
सही गाइडेंस मिला, तो बड़ा मुकाम हासिल करेगी
एसपी ने बताया कि प्रीति काफी होशियार है। यदि उसे सही गाइडेंस मिलेगा, तो वह जीवन में बड़ा मुकाम हासिल कर सकती है। मैं उससे एल्गिन में मिला था। उसने रोते हुए कहा था कि अंकल मेरा क्या होगा। तभी से मैं कश्मकश में था। प्रीति के साथ उसकी छोटी बहन प्राची की जिम्मेदारी भी उठाने के लिए उसकी मां किरन से बात की थी, लेकिन वह तैयार नहीं हुई।
प्रीति से मिलने पहुंचे एसपी
शुक्रवार सुबह 11.30 बजे एसपी अमित सिंह स्नेह नगर में निजी संस्थान की देख-रेख में रखवायी गई मासूम प्रीति से मिलने पहुंचे। उन्होंने वहां उपलब्ध व्यवस्थाओं की जानकारी ली। प्रीति से बात की। व्यवस्थापक से उसकी पढ़ाई को लेकर बात की। इस दौरान उन्होंने उसे गिफ्ट दिया।
ये थी घटना-
18 जुलाई की रात आइएसबीटी के पास झोपड़ी बनाकर रह रहे अज्जू वंशकार ने शराब के नशे में डेढ़ वर्षीय बेटी रूपाली को पत्थर पर पटक कर मार डाला था। वजह सिर्फ इतनी थी कि एल्गिन में भर्ती उसकी पत्नी किरन ने उसी दिन चौथी बेटी को जन्म दिया था। रूपाली मां के लिए रो रही थी। अगले दिन इस हत्या का खुलासा प्रीति ने किया। इसके बाद एसपी खुद एल्गिन पहुंचे, जहां से अज्जू को गिरफ्तार किया गया। वहां एसपी ने गोद में उठाकर प्रीति से पूरी घटना के बारे में पूछा तो उसने पूरा वाकया सुनाया था।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned