इस मंदिर में लग रही कमाल की क्लास,  मोरल वैल्यूज की दे रहे शिक्षा

शहर के दिगम्बर जैन मंदिरों में संचालित होती हैं स्पेशल क्लासेस, रोजाना शाम 6 बजे से शुरु हो जाता है नैतिक शिक्षा का सबक

By: deepak deewan

Published: 09 May 2017, 03:21 PM IST

जबलपुर।  आजकल के बच्चों को सबकुछ सिखाया जाता है पर मोरल वैल्यूज के बारे में कोई नहीं बताता। शहर की जैन कम्युनिटी ने इस संबंध में सजगता दिखाई है और बच्चों को नैतिक शिक्षा देने की पहल की है। गर्मियों की छुट्टियों में जैन समाज सबसे ज्यादा इस बात का ध्यान देता है कि बच्चों को ज्ञान-विज्ञान के अलावा मोरल वैल्यूज के बारे में भी सिखाया जा सके। 


मंदिरों में लगा रहे स्पेशल क्लास
इसी उद्देश्य के शहर के लगभग सभी दिगम्बर जैन मंदिरों में हर रोज या फिर कहीं-कहीं हर संडे पाठशाला लगाई जाती हैं। यहां मोरल और रिलीजियस वैल्यूज की स्टडी में डिग्री लेकर आने वाले एक्सपर्ट बच्चों को संस्कारों के साथ धर्म की बारीकियां भी सिखाते हैं। शहर के लगभग सभी जैन मंदिरों में शाम के समय लगने वाली ये स्पेशल पाठशाला बच्चों के कोमल मन में कई तरह के संस्कारों का बीजारोपण कर रही है। इस पाठशाला की खासियत है कि इसमें बच्चों के साथ युवाओं को भी संस्कारित किया जाता है। अखिल भारतीय जैन युवा फेडरेशन जबलपुर के नितिन जैन ने बताया कि ये पाठशालाएं मंदिर परिसर में ही संचालित होती हैं। 

man 2

जीव दया, शाकाहार, परोपकार की प्रेरणा
इसमें स्टूडेंट्स को भगवान, पूजन आदि के साथ नैतिक मूल्यों की ज्ञान भी दिया जाता है। जीव दया, शाकाहार, परोपकार जैसे विषयों के साथ एक ह्यूमन बीइंग के सारे दायित्व यहां सिखाएं जाते हैं। मंदिर परिसर में रोजाना संचालित होने वाली इन पाठशालाओं में शिक्षा देने वाले शिक्षक जयपुर स्थित संस्थान से विशेष प्रशिक्षण प्राप्त होते हैं। जो प्रॉपर एग्जाम देकर पासआउट होते हैं। ये शिक्षक बच्चों को ट्रेंड करने के साथ-साथ अन्य बौद्धिक क्रियाकलाप भी सिखाते हैं। 


मोरल वैल्यूज क्लासेस एक नजर में
शहर में दिगम्बर जैन मंदिर - 40 
पाठशाला का समय - शाम 6 बजे से 
स्पेशल क्लासेस - रविवार सुबह 7 बजे से 
स्टूडेंट्स का एज ग्रुप - 5 साल से ऊपर सभी 
Show More
deepak deewan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned