छठ पूजा : लौकी की सब्जी ग्रहण कर शुरू किया व्रत

 छठ पूजा : लौकी की सब्जी ग्रहण कर शुरू किया व्रत

Abha Sen | Publish: Nov, 16 2015 09:15:00 AM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

घाटों पर बेदी बन गई है और रंगोली सजाई जा रही है तो रात में दुधिया रोशनी उजाला बिखेर रही है।


जबलपुर। छठ पूजा के लिए नगर के प्रमुख जलस्रोतों में रौनक दिखने लगी है। घाटों पर बेदी बन गई है और रंगोली सजाई जा रही है तो रात में दुधिया रोशनी उजाला बिखेर रही है। जिन्होंने व्रत का संकल्प लिया है, उनके घरों में छठ मइया के गीत गूंज रहे हैं। 

घाटों पर बनी वेदी

नर्मदा के ग्वारीघाट, तिलवाराघाट, हनुमानताल, गोहलपुर तालाब व अन्य जलस्रोत में व्रतधारी महिलाओं ने बेदी बना ली है। वहीं छठ की देवी को अर्पित करने के लिए सभी प्रकार के फलों की मांग बढ़ गई है। सूपेली का बाजार भी गर्म है। व्रत रखने वाली महिलाओं ने रविवार को नहाय-खाय के साथ छठ व्रत का संकल्प लिया और लौकी की सब्जी ग्रहण कर व्रत शुरू किया। 

उत्तर प्रदेश बिहार युवा विकास मंच के अरविन्द कहार ने बताया कि सोमवार की शाम व्रती महिलाएं गुण-दूध की खीर देवी को अर्पित करेगी और मंगलवार को निराजल व्रत शुरू होगा। व्रतधारी महिलाएं मंगलवार को आस्था व श्रद्धा के साथ जल में खड़े रहकर अस्ताचलगामी सूर्य को अघ्र्य देंगी और प्रभु आराधना कर पूरी रात्रि जागरण करेंगी।
बुधवार को उगते सूर्य को अघ्र्य के साथ व्रत पूर्ण होगा। छठ पूजा के उल्लास में घाटों पर डीजे व बैंड दलों की मधुर धुन पर श्रद्धालु झूमेंगे तो शानदार आतिशबाजी भी दिखेगी, भक्तों को प्रसाद वितरण होगा।

इनका कहना है

छठ व्रत में पुत्र-पति, सुख-समृद्धि व मनोकामनापूर्ति के लिए तीन दिन की कठिन उपासना की जाती है। मंगलवार को निराजल व्रत रखा जाएगा।
-आचार्य डॉ. चन्द्रशेखर शास्त्री

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned