हथकड़ी समेत अदालत से भागे बदमाश के हाथों में है जादू, चौंका देगा

हथकड़ी समेत अदालत से भागे बदमाश के हाथों में है जादू, चौंका देगा

Premshankar Tiwari | Publish: Sep, 03 2018 10:10:29 PM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

पुलिस खोजती रही और वह देखता रहा

जबलपुर। जिला अदालत परिसर से 20 जून को पेशी के बाद फरार होने वाले मोहनिया रांझी निवासी उमेश यादव ने सोमवार को पुलिस कंट्रोल रूम में चौंकाने वाला खुलासा किया। उसने अपना हाथ दिखाया, जो हथकड़ी की साइज से भी बहुत पतला था। बताया कि घटना वाले दिन भी कोर्ट से लौटते समय उसने हथकड़ी से हाथ निकाला और चुपचाप वहीं खड़ा हो गया। काफी देर बाद भी जब पुलिस वाले नहीं पहचान पाए तो फिर चहलकदमी करते हुए बाहर निकल गया। उसके इस अंदाज की जुबानी सुनकर अधिकारी भी हंस पड़े।

मुंबई में मिला
एसपी अमित सिंह ने हथकड़ी की साइज को लेकर पीएचक्यू को पत्र लिखने की बात कही है। जिससे इस तरह की घटना का दुहराव न हो। वह फरारी में मुम्बई के परधा में इकबाल की दूध की डेयरी में काम करने लगा था। इसकी खबर माढ़ोताल टीआई एनके पांडे को लगी तो टीम भेजकर उसे गिरफ्तार कर जबलपुर लाए और सिविल लाइंस पुलिस के सुपुर्द किया। सोमवार को उसे जेल भेज दिया गया। एसपी ने टीम को दस हजार का इनाम देने की घोषणा की है।

ये भी अजब संयोग
उमेश यादव ने साथियों के साथ मिलकर 20 जून 2014 में मोहनिया निवासी भगवानदास यादव की हत्या कर दी थी। ठीक चार साल बाद उसे फरार होने का मौका भी 20 जून 2018 को मिला था। वारदात की तारीख और उसके अदालत से फरार होने की तारीख के संयोग भी भी हर तरफ चर्चा रही।

अब कप्तान ने दिखाई सख्ती
जिला कोर्ट में पेशी के दौरान बंदियों की फरारी पर एसपी ने सख्ती दिखाई है। अब पुलिस लाइन की रिजर्व बल के अतिरिक्त सम्बंधित थाने का बल भी बंदियों के साथ भी जाएगा। पेशी के दौरान थाने का बल ऐसे अपराधियों पर नजर रखेगा। इसके अलावा लॉकअप से कोर्ट तक बंदियों को ले जाने के दौरान भी सुरक्षा व्यवस्था में बदलाव किया जाएगा। एसपी ने इसके अलावा लाइन से रोटेशन के अनुसार पुलिस कर्मियों की पेशी ड्यूटी लगाने के निर्देश दिए हैं।


लापरवाही पर होगी बर्खास्तगी
एसपी ने पूर्व में फरार हुए बंदी धनराज राजपूत के मामले में लापरवाही के लिए सुरक्षा में तैनात एएसआइ रवि व आरक्षक गोपाल और प्रभारी एसआइ लखन पटेल को अब बर्खास्त करने की बात कही है। इन लापरवाह पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए एएसपी संजीव उईके से प्रतिवेदन भी मांगा है।

Ad Block is Banned