कॉम्पीटेटिव एग्जाम की तैयारी पर शहर के दिव्यांगों का फोकस

लुई ब्रेल जयंती आज : अफसर बनने की दिव्य दृष्टि

By: mahawar mahawar

Published: 04 Jan 2018, 05:30 AM IST

जबलपुर. इनके सपनों में भी हौसलों की उड़ान भरने की चाह है। जीवन में आगे बढऩे की उम्मीद भी इनकी बातों में नजर आती है। वे पढ़ाई पूरी करने के साथ अब सुनहरे भविष्य को गढऩे की बात भी करते हैं। इनमें से किसी का सपना जहां बड़ा बाबू बनने का है, तो कोई बैंक मैनेजर और आईएएस अधिकारी बनना चाहता है। इसके लिए वे कॉम्पीटेटिव एग्जाम की तैयारी भी कर रहे हैं। हम यहां बात कर रहे हैं शहर के उन दिव्यांगों की जो कि दृष्टिहीन होते हुए भी बेहतर भविष्य के सपनों को संजोकर प्रयास कर रहे हैं। इन सभी का सपना बेहतर कॅरियर का निर्माण करना है।

कोचिंग और एक्स्ट्रा क्लास भी


कॉम्पीटेटिव एग्जाम के लिए यह दिव्यांग स्टूडेंट्स कॉलेजों में लगने वाली एक्स्ट्रा क्लास के साथ अलग-अलग कोचिंग भी अटैंड करते हैं। इसमें वे कई तरह के मॉक टेस्ट भी देते हैं। स्टूडेंट्स गोयल लाल यादव का कहना है कि दिव्यांगों के लिए वर्तमान में कई तरह की संभावनाएं बढ़ चुकी है। बस अवसर मिलने के कारण अलग-अलग विभाग में दिव्यांगों के लिए नौकरियां बढ़ गई हैं।

लगातार देते हैं एग्जाम

दिव्यांग गुलाब अब्बास अंसारी का कहना है कि उन्होंने एसएससी के साथ रेलवे और बैंक के भी कई एग्जाम दिए हैं। उन्होंने बताया कि लगातार एग्जाम दे रहे हैं, ताकि पोस्ट अच्छी मिल सके।

आईएएस की प्रिपरेशन

सुनील कुमार यादव ने बताया कि वे पीएससी की तैयारी कर रहे हैं। इसके लिए वे कोचिंग भी कर रहे हैं, जिससे एग्जाम क्लीयर करने में मदद मिलेगी। फिलहाल एसएससी और रेलवे की परीक्षा दी है।

डिजिटल की ओर दिव्यांग

दिव्यांगों के लिए डिजिटल टेक्नोलॉजी से जुड़ी नई-नई तरह के कॉन्सेप्ट भी गवर्नमेंट द्वारा अप्रूव्ड किए जा रहे हैं। शहर के गवर्नमेंट महाकोशल कॉलेज में दिव्यांगों के लिए निशुल्क कम्प्यूटर कोर्स सिखाया जाता है, क्योंकि कॉलेज में सबसे ज्यादा दृष्टिहीन छात्र पढऩे के लिए आते हैं। इसके साथ ही अब डिजिटल के दायरे को छूते हुए वे स्मार्ट स्टडी भी कर रहे हैं।

__________________________________________

यूजीसी नेट नवंबर का रिजल्ट जारी

जबलपुर. सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन ने यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट (नेट) 2017 नवंबर का रिजल्ट जारी कर दिया है। उम्मीदवार सीबीएसई की ऑफिशियल वेबसाइट पर अपना रिजल्ट देख सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले अपना एप्लीकेशन फॉर्म का नंबर फिल करना होगा, फिर रोल नंबर और लास्ट में अपनी डेट ऑफ बर्थ फिल करके सबमिट करनी होगी। यहां पर यह ध्यान रखें कि आप वही डेट ऑफ बर्थ फिल करें जो एडमिट कार्ड पर थी। इसके बाद रिजल्ट सामने आ जाएगा। कहा जा रहा था कि रिजल्ट जनवरी के सेकंड वीक में आएंगे, लेकिन समय से पहले ही रिजल्ट जारी होने से उम्मीदवारों ने राहत की सांस ली है। परीक्षा का आयोजन 5 नवंबर 2017 को किया गया था। कुछ दिन बाद ही बोर्ड ने आन्सर शीट भी जारी कर दी थी। इसमें लगभग 9 लाख प्रतिभागियों ने 84 विषयों के लिए परीक्षा दी थी। परीक्षा देश के 91 शहरों के 1700 परीक्षा केंद्रों में हुई थी।

mahawar mahawar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned