दुनिया का सबसे महंगा आम, 21 हजार का एक आम, नाम है 'ताईयो नो तमागो'

worlds most expensive mango: 900 ग्राम तक होता है एक आम का वजन। कीमती होने के कारण 24 पहरे में रहते हैं आम के पेड़...।

By: Manish Gite

Published: 15 Jun 2021, 06:56 AM IST

प्रभाकर मिश्रा

जबलपुर। नर्मदा किनारे बसे जबलपुर शहर से सटे डगडगा हिनौता के एक बगीचे में जापानी किस्म के आम 'ताईयो नो तमागो' की महक मुंबई तक पहुंच रही है। वहां के कुछ आम कारोबारी इस आम के लिए 21 हजार रुपए प्रति नग तक की बोली लगा चुके हैं। एक आम का वज़न करीब 900 ग्राम तक होता है। हालांकि, बगीचे के मालिक संकल्प सिंह परिहार ने इस सीजन में भी आम बेचने से मना कर दिया है।

 

यह भी पढ़ेंः मध्य प्रदेश में होती है इस खास आम की पैदावार, नाम है 'नूरजहां', 1200 रुपये तक होती सिर्फ एक फल की कीमत

 

जबलपुर के चरगवां मार्ग पर डगडगा हिनौता में संकल्प सिंह परिहार के बगीचे में लगे 'ताईयो नो तमागो' (taiyo no tamago) आम पेड़ में पकने के बाद ही तोड़े जाते हैं। इस बार इस खास किस्म के आम को पकने में लगभग एक महीने का समय लगेगा। बगीचे में 54 पौधे हैं। इनकी अभी कलम की गई है। इसके कारण चार पेड़ों में तकरीबन 40 फल आए हैं। पिछले साल 50 के लगभग फल लगे थे। सख्त सुरक्षा पहरे के बावजूद इनमें से 14 के लगभग फल चोरी हो गए थे। बचे हुए फल उन्होंने परिवार के लोगों में बांट दिए थे।

mango1.jpg

पकने पर दिखते हैं सुनहरे

'ताईयो नो तमागो' आम का रंग कच्चा रहने तक लाल माणिक नजर आता है। पक जाने के बाद रंग सुनहरा हो जाता है। पेड़ में लगे ये आम लोगों को बहुत ही लुभाते हैं। इस आम में खुशबू व मिठास ज्यादा होती है।



500 पेड़ तैयार करने का लक्ष्य

आम की खेती करने वाले संकल्प ने बताया कि उनका लक्ष्य अपने बगीचे में 'ताईयो नो तमागो' किस्म के 500 पेड़ तैयार करने का है। इसके बाद ही बाकी किस्म के आम की तरह वे 'ताईयो नो तमागो' किस्म के आम बाजार में बेचेंगे। उनके बगीचे में 6 विदेशी किस्मों के आम लगे हैं। फिलहाल वे 12 एकड़ में आम की खेती कर रहे हैं।

Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned