मोबाइल के तीन पत्ती गेम में 35 लाख जीते! अब फंसा ये पेंच

मोबाइल के तीन पत्ती गेम में 35 लाख जीते! अब फंसा ये पेंच

Lalit kostha | Publish: Sep, 03 2018 09:54:37 AM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

मोबाइल के तीन पत्ती गेम में 35 लाख जीते! अब फंसा ये पेंच

जबलपुर. क्रिकेट सटोरिया सतीश सनपाल तक हवाला के जरिए 35 लाख रुपए भेजने वाले मैनेजर हितेश तारावानी के विदेश फरार होने की जानकारी सामने आई है। एसटीएफ ने उसकेजयप्रकाश नगर स्थित घर में दबिश दी थी, लेकिन वह नहीं मिला। इसके बाद छानबीन में यह बात सामने आई कि वह विदेश भाग गया है। एसटीएफ को उसके पासपोर्ट के बारे में देर से पता चला। एसटीएफ ने रामपुर स्थित उसके कार्यालय में नोटिस चस्पा कर दिया है। उसमें उसे नौ सितम्बर तक एसटीएफ कार्यालय में पेश होने के लिए कहा गया है।

news fact-

जार्जिया में चल रहे तीन पत्ती गेमिंग धमाल की बुकिंग करने वाले स्थानीय एजेंटों की तलाश
विदेश भागा तारावानी! कार्यालय में एसटीएफ ने चस्पा किया नोटिस
हितेश तारावानी के माध्यम से ही सटोरिया सतीश सनपाल जबलपुर को प्रदेश में क्रिकेट सट्टा का सेंटर बना रखा था। उसकी पुलिस विभाग में भी मिलीभगत है। तारावानी एसटीएफ के हाथ लगता, तो कई बड़े राज सामने आ सकते थे। इसी कारण उसे विदेश बुला लिया गया। 35 लाख को बीमे की रकम बताने वाले सतीश सनपाल के चचेरे भाई मनोज सनपाल को भी एसटीएफ तलाश रही है।

ये है मामला
एसटीएफ ने 29 अगस्त को 35 लाख रुपए के साथ क्रिस्टल होटल के पास लालमाटी निवासी सुरेंद्र उर्फ सोनू मनवानी और गलगला निवासी अमित कुमार शर्मा को दबोचा था। पूछताछ में दोनों ने बताया था कि ये रकम क्रिकेट सटोरिया सतीश सनपाल के मैनेजर हितेश तरवानी ने रामपुर चौक स्थित कार्यालय में दी थी।

इनकी है तलाश- ट्रिपल एस ग्रुप के नाम से सतीश सनपाल की ओर से जार्जिया स्थित कैसीनो जुवेल में शुरू हो चुके तीन पत्ती गेमिंग धमाल के लिए बुकिंग करने वाले स्थानीय एजेंट एलेक्स, आजम, सनी, रनजीत को एसटीएफ तलाश रही है। आजम को पूर्व में ओमती पुलिस सट्टे में गिरफ्तार कर चुकी है।
&सतीश सनपाल के गोवा स्थित होटल और विजय नगर स्थित एक प्लाजा में खोले गए नौ करोड़ के होटल की भी जांच की अनुमति अधिकारियों से मांगी है।
- हरिओम दीक्षित, एसटीएफ प्रभारी, जबलपुर

Ad Block is Banned