भाजपा नेता की नाराजगी तो बढ़ती ही जा रही, अब बात संस्कारों की करने लगे

मप्र के पूर्व मंत्री और भाजपा से विधायक अजय विश्नोई ने फिर ट्वीट कर जताई नाराजगी

 

By: shyam bihari

Published: 13 Jul 2020, 09:56 PM IST

जबलपुर। कहने को तो मप्र में भाजपा की सरकारी दमदारी से चल रही है। ऊपर से कहीं नहीं लग रहा है कि भाजपा खेमे में किसी तरह की नाराजगी है। लेकिन, भाजपाई राजनीति के शांत पानी में जबलपुर जिले के पाटन विधानसभा सभा क्षेत्र से भाजपा के ही वरिष्ठ विधायक अजय विश्नोई अलग ही दिशा में चल रहे हैं। जब मंत्रिमंडल का गठन हुआ और जबलपुर, रीवा सम्भाग से किसी को मंत्री नहीं बनाया गया तो विश्नोई ने अप्रत्यक्ष रूप से गुस्सा दिखाया था। कहा था कि इससे भाजपा कार्यकर्ता नाराज हो सकते हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को स्वयं जबलपुर और रीवा का प्रभारी मंत्री बनना चाहिए। अभी हाल में कांग्रेस विधायक प्रद्युम्न सिंह लोधी भाजपा में शामिल हुए। उन्हें भाजपा में आते ही दर्जा प्राप्त मंत्री भी बना दिया गया। इस पर एक फिर से अजय विश्नोई का गुस्सा फूटा है। उन्होंने इस बार भाजपाई संस्कारों की दुहाई दी है। विश्नोई ने एक ट्वीट किया। इसमें उन्होंने सवाल दागा कि आप भाजपा को कहां ले जाना चाहते हैं?
हमें संस्कारों उल्टा पाठ पढ़ाना होगा
विश्नोई ने ट्वीट कर कहा 'इस हाथ दे-उस हाथ ले, का शानदार उदाहरण प्रस्तुत हुआ है मध्यप्रदेश की राजनीति में। आज जब सरकार न तो बनना थी और न गिरना। फिर यह क्यों किया गया? आप भाजपा को कहां ले जाना चाहते हैं? जनता को बताएं ना बताएं भाजपा को यह बताना होगा। या हमें फिर हमें संस्कारों का उल्टा पाठ पढ़ाना होगा।Ó
इससे पहले विश्नोई ने मंत्रिमंडल विस्तार के बाद ट्वीट कर कहा था कि पहले मंत्रियों की संख्या और अब विभागों का बंटवारा। मुझे डर है कहीं भाजपा का आम कार्यकर्ता हमारे नेता की इतनी बेइज्जती से नाराज न हो जाए। नुकसान हो जाएगा। उन्होंने वीडियो संदेश वायरल कर भी कहा था कि चुनाव लडऩे वाले मंत्रियों को कोई विभाग नहीं दिए जाएं। विश्नोई जैसा विधाकय इतनी कड़ी बातें यूं ही तो कहेंगे नहीं। जबलपुर से राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि कहीं न कहीं से विश्नोई को यह लग रहा है कि उनकी पार्टी में पूछ-परख कम हुई है।

BJP bjp leader
shyam bihari Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned