कॉलेज में फैली थी नकल की पर्चियां, फ्लांइग स्क्वाड का ठनका माथा

कॉलेज में फैली थी नकल की पर्चियां, फ्लांइग स्क्वाड का ठनका माथा
The college was spread over the chits, the flying squad's forehead

Mayank Kumar Sahu | Publish: Apr, 11 2019 10:50:55 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

रादुविवि: एक ही परीक्षा केंद्र में बने 4 नकल प्रकरण, शासकीय पाटन कॉलेज परीक्षा केन्द्र का मामला, रादुविवि उडऩ दस्ते ने की कार्रवाई

जबलपुर

कॉलेज के परिसर के बाहर नकल की पर्चियों का ढेर देखकर विश्वविद्यालय की फ्लाइंग स्क्वाड माथा ठनक गया। स्क्वाड की टीम केंद्र से बाहर तो निकल गई लेकिन चुपचाप दूसरी पाली की परीक्षा होने का इंतजार करती रही। अचानक दूसरी बार टीम के आ धमकने की खबर परीक्षा केंद्र को भी नहीं रही। टीम ने तीन छात्रों को नकल करते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया। यह मामला शासकीय पाटन कॉलेज में सामने आया। इस केंद्र से चार नकल प्रकरण बनाए।

रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित परीक्षाओं में नकलचियों पर लगाम लगाने के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से गठित उडऩदस्तों ने परीक्षा केंद्रों में छापेमारी की। उडनदस्ते ने नकल की खबर को लेकर एक ही परीक्षाकेन्द्र में ताबड़तोड़ दो पालियों में छापा मारा और नकल प्रकरण बनाए गए। विश्वविद्यालय उडनदस्ते की टीम ने सुबह की पाली में आयोजित बीएससी की परीक्षा के दौरान शासकीय पाटन कॉलेज स्थित परीक्षा केन्द्र में छापा मारा। इस दौरान केंद्र में एक नकल प्रकरण टीम द्वारा बनाया गया। जब टीम परीक्षा केंद्र से बाहर निकल रही थी तो परीक्षा केन्द्र परिसर में ही उडनदस्ते की नजर नकल की पर्चियों के ढेर पर गई। उन्हें कुछ शंका हुई और परीक्षा केन्द्र की व्यवस्थाओं में लगी टीम को आड़े हाथ लिया। इस दौरान जमकर बहस भी हुई। बाहर किया इंतजार, फिर पहुंची टीमबताया जाता है उडऩदस्ते की टीम परीक्षा केन्द्र से बाहर निकलकर इंतजार करने लगी। वहीं जैसे ही दूसरी पाली जिसमें बीए की परीक्षा का आयोजन हो रहा था, उस दौरान उडनदस्ते ने पुन: उसी परीक्षा केन्द्र में धमक दी। जहां 3 नकलची नकल करते हुए पकड़ाए गए। छात्रों के नकल प्रकरण मौके पर ही बनाए गए। वहीं उक्त पूरे मामले की जानकारी उडऩदस्ते द्वारा विश्वविद्यालय परीक्षा से जुड़े अधिकारियों को दी गई है। वर्जनपरीक्षाओं पर नकल रोकने की सख्त हिदायत दी गई है। यदि गंभीरता नहीं बरती जाती है तो सीएस भी इसके जिम्मेदार होंगे। पाटन शासकीय कॉलेज में चार नकल प्रकरण बनाए गए हैं।

-प्रो.राकेश बाजपेयी, एग्जाम कंट्रोलर रादुविवि

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned