विक्टोरिया के इमरजेंसी यूनिट से वॉक आउट कर दिए डॉक्टर

एक शराबी ने डॉक्टर और नर्स से अभद्रता कर किया बवाल, घटना के बाद नर्स व डॉक्टरों ने किया विरोध

जबलपुर। विक्टोरिया जिला अस्पताल में शुक्रवार की रात को आकस्मिक चिकित्सा विभाग में मोतीनाला स्वास्थ्य केन्द्र में पदस्थ एक आकस्मिक कर्मचारी ने नशे में जमकर हंगामा किया। कर्मचारी द्वारा नर्स से अभद्रता की गई और जब इसका ड्यूटी डॉक्टर ने विरोध किया और उसे रोकने की कोशिश की तो उसने उनके साथ भी अभद्रता की। कुर्सियां पलटाई। टेबिल पर हाथ पकड़ कर रिकार्ड फाडऩे की कोशिश की। इस घटना के बाद सभी डॉक्टर और नर्से अस्पताल में एकत्रित हो गए। जिन्होंने काम बंद कर दिया। अस्पताल में रात को लगभग एक घंटे तक आकस्मिक चिकित्सा विभाग में काम बंद रहा। बाद में वरिष्ठ अधिकारियों की समझाइस के बाद डॉक्टरों ने काम शुरू किया। 

ये थी घटना
शुक्रवार की रात को 9 बजे के लगभग आकस्मिक चिकित्सा विभाग में अमर रजक आया। जो कि वहां मौजूद नर्स से इंजेक्शन लगाने कहने लगा। जब नर्स ने डॉक्टर से परामर्श लेने की बात कही तो अमर ने नर्स के साथ मारपीट की कोशिश की। नर्स को पहले गालियां दी फिर उसका हाथ पकड़ लिया। इस बीच अस्पताल में मौजूद अन्य कर्मचारियों ने अमर को पकड़ा। घटना की सूचना पुलिस को दी। इस बीच सिविल सर्जन डॉ.एके सिन्हा, आरएमओ डॉ.आर के पहाडिय़ा, सहित अन्य डॉक्टर वहां पहुंच गए। अक्रोशित नर्सो एवं स्टॉफ ने काम बंद कर दिया। इस बीच लगभग एक घंटे तक कैज्युअल्टी बंद रही।

victoria hospital jabalpur

रात को भी हुई थी घटना
अस्पताल में गुरुवार की रात को भी नर्सो के साथ छेड़छाड़ की कोशिश  हुई थी। इस मामले में एक वार्ड ब्वाय को संदिग्ध माना जा रहा है। जिसकी सीसीटीवी फुटेज से तलाश की जा रही है। नर्सो ने सुबह भी अस्पताल के बाहर एकत्रित होकर प्रदर्शन किया। रात की घटना डॉक्टर्स और कर्मचारियों की मीटिंग हुई। जिसके बाद सभी ने ओमती थाने में जाकर रिपोर्ट दर्ज कराई। डॉक्टर्स का कहना था कि जब आकस्मिक कर्मचारी इस तरह का परिसर के भीतर ही बर्ताव करेंगे  तो फिर वे कहां सुरक्षित रहेंगे।

देखें वीडियो -


Show More
awkash garg
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned