प्रदेश के इस शहर में नहीं चल पा रहे इ-रिक्शा, यह है वजह

शहर को प्रदूषण मुक्त बनाने के प्रयासों पर लग रहा पलीता

By: reetesh pyasi

Published: 31 Mar 2018, 06:00 AM IST

प्रदेश सहित देशभर में वाहनों से निकलने वाले धुएं से हो रहे प्रदूषण को थामने सड़कों पर इ-रिक्शा तो उतार दिए गए, लेकिन अधूरी तैयारियों की वजह से इनका सफल संचालन नहीं हो पा रहा है।
जबलपुर। जबलपुर शहर में प्रदूषण मुक्त सार्वजनिक वाहन के सपने इ-रिक्शा को चार्जिंग प्वाइंट न होने के चलते पलीता लग रहा है। अब तक महज आईएसबीटी में ही चार्जिंग प्वाइंट उपलब्ध है। जबकि शहर में 421 इ-रिक्शा संचालित हैं। इसकी सबसे बड़ी खामी उसकी बैटरी जल्द उतर जाना बताया जा रहा है। आलम ये है कि शहर में एक समय खुली सात एजेंसियों में तीन बंद हो चुकी हैं।
भानतलैया निवासी राजू सोनकर साइकिल रिक्शा चलाते थे। 10 महीने पहले 1.80 लाख रुपए में इ-रिक्शा खरीदा। अब तक चारों बैटरी 36 हजार में बदलवा चुके हैं। 5700 रुपए में रेस कंट्रोलर और सिल्वर वायरिंग बदलवा चुके हैं। राजू के मुताबिक 50 किमी के बाद बैटरी की चार्जिंग समाप्त हो जाती है। कुछ ऐसा ही दर्द गौतमजी की मढिय़ा निवासी राजकुमार रैकवार का भी छलका। आईएसबीटी में इ-रिक्शा को चार्जिंग में लगाए राजकुमार ने बताया कि चार से पांच घंटे यूं ही बर्बाद हो जाते हैं। वे भी साल भर में चारों बैटरी बदलवा चुके हैं।

इस विकल्प पर चल रहा काम
नवकरणीय एवं ऊर्जा विकास निगम के प्रमुख सचिव मनु श्रीवास्तव ने बताया कि इ-रिक्शा की छत को ही सोलर पैनल के रूप में ढालने पर रिसर्च चल रहा है। इससे इ-रिक्शा में बैटरी चार्जिंग की समस्या समाप्त हो जाएगी।
अप्रैल तक कई जगह प्वाइंट
जेसीटीएसएल के सीईओ सचिन विश्वकर्मा ने बताया कि शहर में आठ स्थानों पर चार्जिंग प्वाइंट के लिए सोलर सिस्टम लगाने का काम चल रहा है। अप्रैल तक चालू हो जाएगा।

हर में प्रस्तावित चार्जिंग प्वाइंट
ग्वारीघाट रैन बसेरा, दमोहनाका रैन बसेरा, अधारताल चौक निगम मार्केट, सामुदायिक भवन गोकलपुर, सामुदायिक भवन वीकल मोड़, तीन पत्ती निगम मार्केट में 50-50 किलो वाट और रैन बसेरा मेडिकल कॉलेज व राजा गोकुलदास धर्मशाला में 20-20 किलोवॉट क्षमता के सोलर पावर सिस्टम लगाने का काम चल रहा है।

शहर में इ-रिक्शों की स्थिति-
शहर में इ-रिक्शा पंजीयन - 421
कीमत- 1.30 से 1.80 लाख रुपए
बैटरी की संख्या- 04
एक बैटरी की कीमत- 07 से 09 हजार रुपए
चार्जिंग में लगने वाला समय- 04 से 05 घंटे
शहर में चार्जिंग प्वाइंट- 01 आईएसबीटी
सोलर सिस्टम- 80 किलोवॉट
चार्जिंग शुल्क- 30 रुपए प्रति वाहन

reetesh pyasi Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned