सडक़ हादसे ने इकलौते एसआई बेटे को छीन लिया

-तीन बहनों की छूट गई कलाई, आखिरी रक्षाबंधन हुआ साबित

 

By: santosh singh

Updated: 18 Aug 2020, 12:39 AM IST

जबलपुर। सतना मैहर में रविवार देर रात सडक़ हादसे में जान गंवाने वाले जगदम्बा कॉलोनी चेरीताल निवासी एसआई अंकित ठगेले (25) का शव सोमवार को पीएम के बाद घर लाया गया। इकलौते बेटे का शव देख मां अर्चना ठगेले और तीनों बहनों का रो-रोक कर बुरा हाल हो गया। भाई की कलाई पर अब भी बंधी स्नेह की डोर मौजूद थी। और बहनें इसी कलाई को हाथों में लेकर विलाप करती रहीं। जवान बेटे की असामयिक मौत से एलआईसी में महाप्रबंधक पद से रिटायर हो चुके पिता चिंतामन लाल ठगेले बदहवासी की हालत में पहुंच गए। चचेरे भाई दीपेंद्र ठाकरे ने शाम चार बजे आंसुओं के बीच करियापाथर में मुखाग्रि दी।
बीजेपी नेता चचेरे भाई राजेंद्र ठाकरे ने बताया कि इंजीनियरिंग कर चुके अंकित की एसआई में सलेक्शन 2018 में हुई थी। दो वर्ष की अपनी पूरी नौकरी सतना में ही की थी। रविवार देर रात ढाई बजे सतना टीआई देवेंद्र प्रताप सिंह का फोन आया तो दिल कांप गया। सोमवार दोपहर दो बजे पीएम के बाद शव मिला। शादी के लिए रिश्ते आ रहे थे, लेकिन कोरोना के चलते टाल दिया था। वह आखिरी बार रक्षाबंधन के समय 302 के एक फरार आरोपी को गिरफ्तार करने जबलपुर आया था। उसी समय बहनों से राखी बंधवाई और चला गया था।

ankit_singh.jpg
IMAGE CREDIT: patrika

ये थी घटना-
मैहर थाने में पदस्थ एसआई अंकित ठगेले सहकर्मी एसआई हेमंत शर्मा के साथ रविवार की रात पेट्रोलिंग ड्यूटी पर निकले थे। ढाबे से खाना खाकर लौट रहे थे। रिलायंस सीमेंट फैक्ट्री के पास पहुंचे थे कि तभी किसी वाहन ने टक्कर मार दी। अंकित की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं हेमंत शर्मा गम्भीर रूप से घायल हो गए। उन्हें सतना बिरला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अंकित के आसमयिक निधन पर एसपी सतना रियाज इकबाल ने गहरा शोक व्यक्त किया। हादसे की खबर मिलने पर देर रात गोहलपुर टीआई रवींद्र कुमार गौतम और लार्डगंज टीआई मधुर पटेरिया पहुंचे थे।

Show More
santosh singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned