ओपन सोर्स टेक्नोलॉजी में कॅरियर के है नए अवसर

लाईव सेमिनार में विशेषज्ञों ने छात्रों को बताए कॅरियर के नए आयाम, 300 से अधिक प्रतिभागियों ने इंडिया स्पार्क लाइव टॉक शो में लिया हिस्सा

By: Mayank Kumar Sahu

Updated: 14 Jun 2021, 10:52 PM IST

जबलपुर।

ओपन सोर्स टेक्नोलॉजी के प्रति तेजी से रुझान बढ़ा है। इस क्षेत्र कॅरियर के कई अवसर मौजूद हैं। यदि छात्र इस दिशा में ध्यान दे तो निश्चित ही वह अपने पैरों पर खड़ा हो सकता है। वर्तमान परस्थितियों में आज कई क्षेत्रों में रोजगार के नए अवसर सृजित हुए हैं जो युवाओं को नया प्लेटफार्म देंगे। यह बात गंधाली सामंत निदेशक डेवलपर इॅकोसिस्टम गिटहब (माइक्रोसॉफ्ट कंपनी) ने छात्रों के बीच व्यक्त किए। ज्ञान गंगा इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड साइंसेज द्वारा वर्चुअल मोड के माध्यम से ट्रेंडस एंड फ्यूचर ऑफ जॉब इन ओपन सोर्स टैक्नोलॉजी पर लाईव सेमिनार कम टॉक शो का आयोजन किया गया था। कार्यक्रम में आईआईटी, एनआईआईटी जैसे प्रमुख संस्थानों के 300 से अधिक प्रतिभागी छात्र-छात्राओं ने हिस्सेदारी की।

सफलता के बताए तीन मंत्र
सामंत ने कॅरियर के निर्णय और ओपन सोर्स टेक्नोलॉजी में नौकरी के अवसर से संबंधित छात्रों के सवालों के जवाब भी दिए। छात्रों को सफलता के तीन मंत्र बताए। जिसमें पहला लव व्हाट यू डू, दूसरा बी फ्लेक्सिबल एंड एजिल और तीसरा बी रेडी टू चेंज बाय लर्निंग न्यू थिंग्स। यदि इन सूत्रों को ध्यान में रखकर काम किया जाए तो निश्चित ही हम अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं।

आगे बढऩे के लिए नॉलेज शेयरिंग जरूरी
इंडिया स्पार्क की सीईओ रूपा तांती ने कहा कि आगे बढऩे के लिए नॉलेज शेयरिंग बेहद जरूरी है। यह एक ऐसा मंच है जो छात्रों और युवा पेशेवरों को नॉलेज शेयर करने, नई तकनीकों से जोडऩे, उभरती प्रौद्योगिकी प्रवृत्तियों प्रतिभाओं को प्लेटफार्म प्रदान करता है। कार्यक्रम की अध्यक्षता सचिव ज्ञान गंगा ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस के डॉ. रजनीत जैन ने की। अतिथियों में डॉ.पंकज गोयल कार्यकारी निदेशक, अपूर्व सिंघई, प्राचार्य डॉ. रवींद्र क्षीरसागर उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन डॉ.रितु अहलूवालिया एवं आभार डॉ.अशोक वर्मा ने व्यक्त किया।

 

Mayank Kumar Sahu Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned