गूगल से नम्बर ढूंढ़ कर अधिवक्ता को दी धमकी, कारण जान कर हैरान रह जाएंगे आप भी

परमिट न मिलने से नाराज ऑटो चालक ने गूगल से नम्बर ढूंढ़ कर अधिवक्ता को दी धमकी
ऑटो को लेकर अधिवक्ता सतीश वर्मा ने लगाई है हाईकोर्ट में जनहित याचिका

By: santosh singh

Published: 29 Mar 2019, 01:45 AM IST

जबलपुर.शहर में अवैध तरीके से संचालित ऑटो को लेकर हाईकोर्ट में जनहित याचिका लगाने वाले अधिवक्ता सतीश वर्मा को एक ऑटो चालक ने जान से मारने की धमकी दी है। ये धमकी अधिवक्ता वर्मा को वाट्सएप कॉल और मैसेज के माध्यम से दी गई। अधिवक्ता की शिकायत पर लार्डगंज पुलिस ने प्रकरण दर्ज करते हुए आरोपी को दबोच लिया है।
पुलिस के अनुसार बुधवार की रात सतना बिल्डिंग निवासी अधिवक्ता सतीश वर्मा ने शिकायत कर बताया कि वह हाईकोर्ट में प्रैक्टिस करते हैं। उन्होंने शहर में ऑटो को लेकर जनहित याचिका लगाई है। बुधवार दोपहर तीन बजे उनके नम्बर पर 9179099980 से वाट्सएप कॉल आया था। कॉल करने वाले ने खुद का परिचय अन्ना धर्मेंद्र के रूप में दिया। उसने अपशब्द, वाक्यों का प्रयोग किया और परमिट न मिलने के लिए उसे जिम्मेदार ठहराते हुए जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद वह थाने शिकायत करने पहुंचे थे। लार्डगंज पुलिस ने साइबर सेल की मदद से नम्बर को ट्रेस कराया तो यह राजेश नायडू नाम के ऑटो चालक का निकला। उसका परिवहन विभाग में परमिट का आवेदन कई महीने से लम्बित है। जिसकी वजह से परेशान था।
गूगल से नम्बर ढूंढ़ कर किया कॉल
आरोपी ने अधिवक्ता का नम्बर गूगल की मदद से खोज निकाला था। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर गुरुवार को जेल भेज दिया।
हाईकोर्ट में ये लगा रखी है याचिका
शहर में ऑटो का संचालन ठीक ढंग से नहीं हो रहा है। ऑटो के लिए न तो व्यवस्थित स्टैंड हैं और न ही इनकी ओवरलोडिंग रोकी जा रही है। शहर में जरूरत से अधिक ऑटो संचालित हो रहे हैं। एक भी ऑटो चालक नियम का पालन नहीं कर रहे हैं। हाईकोर्ट में इसकी लगातार सुनवाई हो रही है। जबलपुर पुलिस और परिवहन विभाग के साथ शासन को मामले में पार्टी बनाया गया है। हाईकोर्ट की फटकार का असर है कि यहां ऑटो के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है।

Show More
santosh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned