Indian Railway: पर्व पर ट्रेन पैसेंजर्स को बड़ी राहत, जबलपुर तक आएगी यह ट्रेन

कोटा से कटनी के बीच चलने वाली पैसेंजर को जबलपुर तक बढ़ा दिया गया है, कोटा से चलकर जबलपुर सुबह 10.45 पर पहुंचेगी यह ट्रेन, कोटा के लिए यह ट्रेन जबलपुर

By: deepak deewan

Published: 18 Aug 2017, 11:57 AM IST

जबलपुर। रेलवे ने पर्वों के इस सीजन मेंं पैसेंजर्स को बड़ी राहत दी है। रेलवे ने कोटा से कटनी के बीच चलने वाली पैसेंजर ट्रेन को जबलपुर तक बढ़ा दिया है। इससे कोटा, राजस्थान तक जाने-आनेवाले यात्रियों के लिए ट्रेन की सुविधा बढ़ जाएगी। अच्छी बात यह भी है कि जबलपुर में यह ट्रेन रोज दिन में ही आएगी और दोपहर में कोटा के लिए रवाना होगी। कोटा से चलकर जबलपुर सुबह 10.45 पर पहुंचेगी यह ट्रेन, कोटा के लिए यह ट्रेन जबलपुर से दोपहर 3.15 पर रवाना होगी। इस पैसेंजर ट्रेन को कटनी से बढ़ाकर जबलपुर तक करने के साथ ही एक और बदलाव किया गया है। पैसेंजर ट्रेन को एक्सप्रेस ट्रेन बना दिया गया है।


२५ अगस्त से बढ़ेगी सहूलियत
अधिकारियों के अनुसार ट्रेन नंबर 51613-14 पैसेंजर को जबलपुर तक चलाया जाएगा। पैसेंजर ट्रेन को एक्सप्रेस करके 25 अगस्त से जबलपुर तक चलाया जाएगा। यह ट्रेन कोटा से कटनी आने के बाद जबलपुर आएगी और फिर जबलपुर से कटनी होते हुए कोटा जाएगी। रेलवे के मुताबिक ट्रेन शाम 7 बजे कोटा से रवाना होगी, जो सागर स्टेशन सुबह 4.40 पर, दमोह सुबह 6.12 पर, कटनी मुडवारा सुबह 8.30 और जबलपुर सुबह 10.45 पर पहुंचेगी। यह ट्रेन जबलपुर से दोपहर 3.15 पर रवाना होगी। इससे कोटा, राजस्थान तक जाने-आनेवाले यात्रियों के लिए ट्रेन की सुविधा बढ़ जाएगी। जबलपुर में यह ट्रेन रोज दिन में ही आएगी और दोपहर में कोटा के लिए रवाना होगी। 


कटिहार मंडल में बाढ़ से रद्द की कई ट्रेनें
इधर बिहार की बाढ़ से रेल यातायात जबर्दस्त प्रभावित हुआ है। अलीपुर दौर से कटिहार रेल मंडल पर बाढ़ से रेलवे ट्रैक बुरी तरह प्रभावित हुआ है। पटरियों पर पानी होने से ट्रेनों का संचालन नहीं हो पा रहा। इस कारण रेलवे ने कई ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है। रेलवे के मुताबिक कामाख्या-एलटीटी, कामाख्या-तिलक टर्मिनल गुवाहाटी, लोकमान्य तिलक- गुवाहाटी, गुवाहाटी-इंदौर, एलटीटी-कामाख्या को रद्द कर दिया गया है। 

deepak deewan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned