देश में सेना के दो वर्कशॉप बंद, जबलपुर आएंगी वहां की हाईटेक मशीनें

506 बेस वर्कशॉप में शिफ्टिंग शुरू, बढ़ेगी क्षमता

By: reetesh pyasi

Published: 19 Jul 2019, 10:00 AM IST

जबलपुर। रक्षा मंत्रालय ने जम्मू-कश्मीर के उधमपुर और गुवाहाटी में सेना के एडवांस बेस वर्कशॉप को बंद कर दिया है। इससे वहां होने वाली तोपों की ओवरहॉलिंग और रिपेयरिंग अब जबलपुर स्थित 506 आर्मी बेस वर्कशॉप में होगी।
इसके लिए दोनों वर्कशॉप की आधुनिक मशीनों को यहां भेजा गया है। जल्द ही मशीनों की स्थापना अलग-अलग सेक्शन में होगी। इससे कर्मचारियों को नया काम मिलने के साथ वर्कशॉप की क्षमता भी बढ़ेगी।

506 आर्मी बेस वर्कशॉप की तरह होता था काम
उधमपुर और गुवाहाटी स्थित एडवांस वर्कशॉप में भी जबलपुर स्थित 506 आर्मी बेस वर्कशॉप की तरह काम होता था। सामरिक दृष्टि से इन वर्कशॉप की स्थापना दुर्गम क्षेत्रों में की गई थी। सीमा पर तैनात गन में खराबी आने पर पास में होने के कारण उन्हें एडवांस वर्कशॉप में भेजा जाता था। केंद्र सरकार ने देशभर के स्टेशन वर्कशॉप सहित कई बेस वर्कशॉप को बंद करने का निर्णय किया है। इसमें इसमें ये दोनों एडवांस वर्कशॉप भी शामिल थे।

ये होगा फायदा
506 आर्मी बेस वर्कशॉप को एडवांस वर्कशॉप की आधुनिक मशीनें मिलने से यहां सुविधा बढ़ जाएगी। आगामी समय में सरकार कर्मचारियों की भर्ती भी कर सकती है। इस सम्बंध में 506 आर्मी बेस प्रशासन का भी कहना है कि मशीनों के आने से सुविधाएं बढेग़ी। मशीनों के अनुसार मैन पावर मिलने से काम में आसानी होगी।

गन रिपेयरिंग में जबलपुर सिरमौर
सेना के पास वर्तमान में जितनी भी तोप हैं, उनमें से लगभग सभी की रिपेयरिंग और ओवरहॉलिंग जबलपुर स्थित 506 आर्मी बेस वर्कशॉप में होती है। धनुष तोप के निर्माण में भी इस संस्थान की बड़ी भूमिका रही। अभी सेना को जीसीएफ से भेजी जा रही अपग्रेडेड एल-70 एंटी एयरक्राफ्ट गन की ओवरहॉलिंग भी यहीं होगी।

अभी इन गन की होती है ओवरहॉलिंग
155 एमएम 39
बोफोर्स तोप
105 एमएम लाइट फील्ड गन
130 एमएम सोल्टम गन
110 एमएम गन
एल-70 एंटी एयरक्राफ्ट गन
प्रमुख स्मॉल आम्र्स

reetesh pyasi Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned