big news:हाथरस की तरह एमपी के जबलपुर में दो वर्षीय मासूम के साथ हुई थी दरिंदगी के बाद हत्या

-जन्मदिन पार्टी में दरिंदे ने शराब पी, फिर बच्ची को सोते से उठा ले गया, हैवानियत के बाद की हत्या

-शहपुरा मासूम प्रकरण में 15वें दिन दो आरोपी गिरफ्तार, मुख्य आरोपी ड्राइवर और सहआरोपी पाटन क्षेत्र के रहने वाले

By: santosh singh

Published: 02 Oct 2020, 12:25 AM IST

जबलपुर। शहपुरा क्षेत्र में हाइवे किनारे स्थित झोपड़ी में मां-पिता के बीच सोते समय मासूम के अपहरण और दरिंदगी के बाद हत्या का सनसनीखेज प्रकरण आखिरकार 15वें दिन सुलझा। मासूम के साथ हैवानियत भरा ये कृत्य जन्मदिन पार्टी में पाटन क्षेत्र से शामिल होने आए 21 वर्षीय युवक ने की। उसका साथ वहीं के एक 20 वर्षीय युवक ने दी। गुरुवार को एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने मामले का खुलासा किया। बताया कि इस प्रकरण को सनसनीखेज मामले में चिन्हित कर फास्ट ट्रैक कोर्ट में ट्रायल कराएंगे। मामले की विवेचना कर जल्द चार्जशीट पेश कराएंगे, जिससे आरोपियों को सजा मिल सके।
एसपी ने बताया कि मामले में गठित एसआई के एएसपी शिवेश सिंह बघेल और एएसपी क्राइम गोपाल खंडेल की अगुवाई में महिला अपराध सेल की प्रभारी प्रीति तिवारी की महत्वपूर्ण भूमिका रही। आरोपियों में कोनी पाटन निवासी सोनू ठाकुर उर्फ सोनू गौंड (21) और वहीं का शुभम उर्फ बच्चू मल्लाह (20) हैं। मुख्य आरोपी सोनू वैन का ड्राइवर है।
ये है वारदात की टाइमलाइन-
16 सितम्बर की देर रात मासूम घर से गायब
17 सितम्बर को अपहरण का मामला दर्ज
18 सितम्बर को घर से दो किमी दूर शव मिला
19 सितम्बर को एसपी ने 10 हजार का इनाम घोषित कर एसआईटी गठित की
21 सितम्बर को शार्ट-पीएम के अधार पर हत्या व बलात्कार सहित पॉक्सो एक्ट दर्ज
21 सितम्बर को आईजी ने घटनास्थल का निरीक्षण कर इनाम 20 हजार किया
24 सितम्बर तक पुलिस ने 700 लोगों से की पूछताछ
25 सितम्बर को झांसीघाट से एक युवक को उठाया
26 सितम्बर को पूछताछ में जन्मदिन पार्टी के बारे में बताया
27 सितम्बर से जन्मदिन पार्टी में आए एक-एक संदेहियों से पूछताछ की गई
30 सितम्बर को मुख्य आरोपी सहित दोनों हिरासत में लिए गए

राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा
IMAGE CREDIT: patrika

जन्मदिन पार्टी में पाटन से आए थे दोनों-
एसपी बहुगुणा के मुताबिक गिरफ्त में आए शुभम मल्लाह की रिश्तेदारी बड़ादेव झांसी घाट में दीपक मल्लाह के घर है। उसकी बेटी के जन्मदिन में शामिल होने हरदुआ पाटन से रिश्तेदारों को लेकर सोनू वैन से गया था। सोनू ने साथी शुभम के साथ अलग-अलग स्थानों पर शराब पी। पार्टी में आए मेहमानों को वहीं छोडकऱ दोनों क्षेत्र में घूम रहे थे। रात लगभग दो बजे शुभम को वह मासूम के घर के बाहर निगरानी के लिए छोड़ा और अंदर से दो वर्षीय मासूम को उठा लाया। इसके बाद दो किमी दूर ले जाकर बलात्कार किया और मुंह दबाकर हत्या कर दी। फिर शव को वहीं खेत में फेंक कर वे जन्मदिन वाले घर में जाकर सो गए। सुबह मेहमानों को लेकर हरदुआ चला गया। वैन की बरामदगी के लिए दोनों को रिमांड पर लिया है।
ये भाजपा का रामराज है या जंगलराज: तन्खा
इस सनसनीखेज वारदात को लेकर राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने प्रदेश सरकार पर कटाक्ष करते हुए बेटियों की सुरक्षा को लेकर सवाल उठाया है। सांसद तन्खा ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि 'हाथरस के बाद जबलपुर में दिल झकझोर देने वाला अपराध। घर में सो रही दो साल की मासूम बच्ची के अपहरण के बाद बलात्कार और हत्या...आरोपियों को कठोरतम सजा दी जानी चाहिए, लेकिन सरकार बताए, कैसे बचाएं अपनी बच्चियां? कहां है सरकार? कहां है कानून व्यवस्था? ये भाजपा का रामराज है या जंगलराज?'

dog serch.jpg
IMAGE CREDIT: patrika

ऐसे हुआ खुलासा-
इस प्रकरण में मासूम के आसपास रहने वालों से लेकर नरसिंहपुर से आने वाले कई हाईवा व ट्रक ड्राइवरों पर संदेह था। पीएसटीएन डाटा के आधार पर पुलिस ने 700 लोगों से पूछताछ की और लगभग 400 लोगों के बयान दर्ज किए। इस पूछताछ में पता चला कि झांसीघाट का गोलू मल्लाह की क्षेत्र में शोहबत इस तरह की है। पुलिस ने उसे हिरासत में लिया। पूछताछ में उसने एक क्लू दिया कि वारदात वाली रात संतू मल्लाह के यहां जन्मदिन पार्टी में शराब पार्टी भी हुई थी। 18 से 20 लोग शामिल हुए थे। पुलिस ने पार्टी से जुड़े फोटो व वीडियो के आधार पर एक-एक संदेही से पूछताछ की। शुभम मल्लाह को उठाया तो पूरी घटना खोल दी। इसके बाद सोनू को उठाया। पीएसटीएन डाटा में भी दोनों के नम्बर मासूम के घर और घटनास्थल पर एक्टिव पाए गए।
ये थी घटना-
16 सितम्बर को मासूम को लेकर उसके मां-पिता शहर के बिलहरी क्षेत्र से शहपुरा घर लौटे थे। थकान के चलते दोनों जल्दी सो गए थे। रात ढाई बजे के लगभग मां की नींद टूटी तो मासूम को गायब देख शोर मचाया। इसके बाद उसकी तलाश शुरू की गई। 17 सितम्बर की सुबह अपहरण का प्रकरण दर्ज कराया। 18 को लाश मिली। शार्ट पीएम के बाद मामले में 363 के साथ 302, 201, बलात्कार, पॉक्सो एक्ट का प्रकरण बढ़ाया गया।

Show More
santosh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned