Interstate thief gang-अंतरराज्यीय चोर गिरोह के दो गुर्गे गिरफ्तार, 1.30 लाख रुपए जब्त

चोरियों का खुलासा: पाटन में कार से 6.21 लाख रुपए चुराए थे, सिहोरा और कोतवाली में भी की थी चोरी

By: santosh singh

Published: 07 Jul 2019, 08:10 AM IST

जबलपुर. पाटन स्थित सहकारी और सेंट्रल बैंक से बीते दिनों पैसे निकाल कर घर जा रहे युवक की कार से रुपयों से भरा थैला लेकर फरार हुए अंतरराज्यीय चोर गिरोह के दो गुर्गों को पुलिस ने दबोच लिया, जबकि दो अब भी फरार हैं। पुलिस ने उनकी निशानदेही पर 1.30 लाख रुपए जब्त किए हैं। पूछताछ में आरोपियों ने सिहोरा और कोतवाली में भी ऐसी वारदात में शामिल होना स्वीकार किया है। पुलिस दोनों को रिमांड पर लेकर पूछताछ कर रही है।
आठ मई को पाटन में हुई थी वारदात
एसपी अमित सिंह ने बताया कि कंजर गिरोह के गुर्गे बैंकों के आस-पास नजर रखते हैं। जैसे ही कोई बड़ी रकम लेकर बैंक से निकलता है, वे उसका पीछा करते हैं। मौका पाकर रुपए से भरा बैग चोरी कर भाग जाते हैं। गिरोह ने आठ मई को ग्वारी निवासी विनोद सिंह ठाकुर की कार से 6.21 लाख रुपए से भरा बैग चुराया था।
दो गिरफ्तार, दो फरार
गिरोह को पकडऩे के लिए एएसपी रायसिंह नरवरिया, एएसपी क्राइम शिवेश सिंह बघेल को मॉनीटरिंग के निर्देश दिए थे। क्राइम ब्रांच ने शनिवार को पाटन से गिरोह के दो गुर्गों बुढ़ार शहडोल निवासी चंद्रीभान उर्फ बबलू और भोलगढ़ अनूपपुर निवासी पप्पू उर्फ आकाश को गिरफ्तार किया। गिरोह के दो गुर्गे अनूनपुर निवासी रन्नू उर्फ रंजीत कंजर, मघ्घू उर्फ रामनारायण कंजर की तलाश की जा रही है।

1.30 लाख रुपए जब्त किए
IMAGE CREDIT: patrika

इन वारदातों में भी शामिल
एसपी ने बताया कि गिरोह ने 20 मार्च 2017 को कोतवाली में एक कार से तीन लाख और फरवरी 2018 में सिहोरा में एक लाख रुपए चुराए थे। चोरी में रन्नू कंजर की बाइक का उपयोग किया गया था। बाइक छत्तीसगढ़ के राजनंदगांव में की गई है।
ये प्रकरण हैं दर्ज
एसपी ने बताया, गिरोह के गुर्गों को पहले भी ओमती पुलिस ने गिरफ्तार किया था। गिरोह के खिलाफ बुढार, शहडोल, अनूपपुर, छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव और झारखंड में चोरी के कई मामले न्यायालय में विचाराधीन हैं। दबोचे गए आरोपी बुढ़ार के हिस्ट्रीशीटर बदमाश हैं।

 

Show More
santosh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned