scriptunicipal corporation area was once 7 square miles in 1864 | ·कभी 7 वर्गमील था 1864 में नगर निगम क्षेत्रफल, अब 50 किमी है परिधि | Patrika News

·कभी 7 वर्गमील था 1864 में नगर निगम क्षेत्रफल, अब 50 किमी है परिधि

शहर विकास के लिए अब बनेगा जोनल प्लान,सेक्टरवार विकास के लिए अहम होता है जोनल प्लान, इंदौर को मिला है इसका लाभ

जबलपुर

Published: July 31, 2022 10:12:35 pm

जबलपुर.

शहर के एक ही इलाके में अस्पताल सुलभ हों। एक ही स्थान पर कपड़े के स्टोर हों या एक ही इलाके में सेक्टरवार व्यविस्थत आवास, दुकानें, व्यावसायिक कॉम्पलेक्स, स्कूल-कॉलेज और अस्पताल की सुविधा मिले। सेक्टरवार विकास के लिए अब जबलपुर नगर निगम का जोनल प्लान बनेगा।
jabalpur.png
jabalpur
सीपी एंड बरार के समय 1864 में गठित प्रदेश का सबसे पुराना नगरीय निकाय होने के बावजूद अब तक नगर में विकास सुनियोजित नजर नहीं आता है। नगर निगम की परिधि सात वर्ग मील से बढ़कर आज 50 किलोमीटर हो चुकी है। तकनीकी विशेषज्ञों के अनुसार नगर का क्षेत्रफल तो बढ़ता गया, लेकिन विकास के काम बिखरे नजर आते हैं। दरअसल यहां मास्टर प्लान तो बने, लेकिन जोनल प्लान नहीं बना। जबकि इंदौर और भोपाल में जोनल प्लान भी बने। नतीजतन दोनों शहरों में पर्याप्त संख्या में चौड़ी सड़कों और नए बाजारों का विकास हुआ।
चौड़ी सड़कें मिली न नए बाजार

जबलपुर में आठ से ज्यादा एमआर (मेजर सड़कें), 12 से ज्यादा एसआर (सर्विस सड़कों) का निर्माण होना था। इनमें से महज एक ही मेजर सड़क एमआर 4 और गिनती की अधूरी सर्विस सड़कों ही निर्माण हो सका है। नतीजतन नगर वासियों को रोड नेटवर्क के नाम पर नए विकल्प नहीं मिले। पुरानी सड़कों पर ही यातायात का दबाव बढ़ रहा है। इसी तरह बाजार के नाम पर आज भी नगर से लेकर समूचे महाकोशल के लोग बड़ा फुहारा, सराफा, अंधेरदेव, निवाडग़ंज की तंग गलियों में जूझने को मजबूर हैं। टाउन प्लानर्स के अनुसार यदि नगर का जोनल प्लान बना होता और सेक्टरवार विकास होता तो यहां भी चौड़ी सड़कों और बाजारों का विकास होता।
.......................
मास्टर प्लान और जोनल प्लान में अंतर

- मास्टर प्लान समूचे निवेश क्षेत्र का होता है, जबकि जोनल प्लान नगर में किसी नए प्लानिंग एरिया में 100-150 हेक्टेयर इलाके को चिह्नित कर उसका सेक्टर वार विकास किया जाता है।
- मास्टर प्लान की अवधि लम्बी होती है, जबकि जोनल प्लान सीमित समय का होता है।

.........................
ऐसे बढ़ा नगर निगम का क्षेत्रफल

- 07 वर्ग मील क्षेत्रफल था 1864 में सीपी एंड बरार के समय
- 52 वर्गमील वर्ष 1959 में

- 245 वर्ग किमी है वर्तमान निवेश क्षेत्र
- 375 वर्ग किमी नए मास्टर प्लान में होने वाला है निवेश क्षेत्र
- 100-150 हेक्टेयर जमीन के सेक्टरवार विकास के लिए बनाया जाता है जोनल प्लान

.....................
निगमायुक्त ने दी सैद्धांतिक सहमति

नगर निगम क्षेत्र में जोनल प्लान तैयार करने के लिए निगमायुक्त आशीष वशिष्ठ ने टाउन एंड कंट्री प्लानिंग के संचालक को पत्र लिखकर सैद्धांतिक सहमति दी है।
- जोनल प्लान आवश्यक
स्ट्रक्चर इंजीनियर टाउन प्लानर इंजीनियर संजय वर्मा के अनुसार नगर के सुनियोजित सेक्टरवार विकास के लिए जोनल प्लान आवश्यक है। लम्बे समय से इसकी आवश्यकता महसूस की जा रही है। लेकिन इस दिशा में काम नहीं हुआ। सेक्टरवार विकास के लिए जोनल प्लान तैयार करने की दिशा में शुरुआत होना अच्छी पहल है।
इंजी. संजय वर्मा, स्ट्रक्चर इंजीनियर टाउन प्लानर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon : राजस्थान में 3 अगस्त से बारिश का नया सिस्टम, पूरे प्रदेश में होगी झमाझमNSA डोभाल की मौजूदगी में बोले मुस्लिम धर्मगुरु- 'सर तन से जुदा' हमारा नारा नहीं, PFI पर प्रतिबंध की बनी सहमतिकीमत 4.63 लाख रुपये से शुरू और देती हैं 26Km का माइलेज! बड़ी फैमिली के परफेक्ट हैं ये सस्ती 7-सीटर MPV कारेंराजस्थान में भारी बारिश का दौर जारी, स्कूलों की तीन दिन की छुट्टी, आज इन जिलों में झमाझम की चेतावनीWeather Update: राजस्थान में झमाझम बारिश को लेकर अब आई ये खबरराजस्थान में आज यहां होगी बारिश, एक सप्ताह तक के लिए बदलेगा मौसमएमपी में 220 करोड़ से बनेगा 62 किमी लंबा बायपास, कम हो जाएगी कई शहरों की दूरी, जारी हो गए टेंडरसरकारी नौकरी लगवा देंगे कहकर 10 युवाओं को लगाई 75 लाख रुपए की चपत, 2 गिरफ्तार

बड़ी खबरें

PM मोदी से मिलीं बंगाल CM ममता बनर्जी, विकास योजनाओं के 1 लाख करोड़ के बकाए फंड की मांग कीWest Bengal SSC Scam: TMC नेता पार्थ चटर्जी और अर्पिता मुखर्जी की न्यायिक हिरासत बढ़ी, 18 अगस्त तक रहेंगे जेल मेंMaharashtra Panchayat Election Results 2022: महाराष्ट्र पंचायत चुनाव में शिंदे खेमे ने दिखाया दम, बीजेपी-उद्धव गुट समेत अन्य दलों के ऐसे रहें नतीजेCongress Protest: काले कपड़ों में संसद तक पहुंचे कांग्रेस सांसद, विजय चौक पहुंचने से पहले हिरासत में राहुल गांधीगहलोत ने हिटलर-जर्मनी का इतिहास बताकर मोदी पर साधा निशानाMumbai: महाराष्ट्र CM के गुरु आनंद दिघे के भतीजे केदार दिघे की मुश्किलें बढ़ीं, रेप पीड़िता को धमकाने के मामले में समन जारीबाला साहेब हमेशा कहते थे, रोओ मत, सही के लिए लड़ो... ED की कस्टडी से संजय राउत ने विपक्ष को लिखी चिट्ठीबिहार में रास्ता भूल गई ट्रेन, जाना था समस्तीपुर पहुंच गई कहीं और, 2 अफसर निलंबित
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.