केंद्रीय विद्यालयों में पढ़ाई का यूनिक होम शेड्यूएल

दो स्तर पर कराई जा रही पढ़ाई, स्कूल वार टाइमटेबल बनाकर कक्षाओं का संचालन, एकडमिक कैलेण्डर की तर्ज पर अध्ययन, जिनके पास नहीं एंड्राइड फोन उन्हें डीटीएच चैनलों को दिखाने किया जा रहा प्रयास

By: Mayank Kumar Sahu

Updated: 18 Apr 2020, 10:45 PM IST

जबलपुर।
केंद्रीय विद्यालयों में पढ़ाई का होम शेड्यूल जारी कर दिया गया है। लॉकडाउन के दौरान घर पर पढ़ाई कराने के लिए यह केंद्रीय विद्यालयों में दो स्तरीय पढ़ाई की व्यवस्था को लागू किया गया है। पहला स्तर में केंद्रीय विद्यालय संगठन रीजन द्वारा खुद कक्षाओं का संचालन किया जा रहा है तो द्वितीय स्तर पर केंद्रीय विद्यालयों को खुद अपने स्तर पर ऑनलाइन कक्षाओं के संचालन के निर्देश दिए गए हैं। जबलपुर शहर के सभी केंद्रीय विद्यालयों में यह व्यवस्था लागू कर दी गई है। मानव संसाधान विकास मंत्रालय द्वारा हाल ही में केंद्रीय विद्यालयों को अल्टरनेटिव एकेडमिक कैलेण्डर के अनुरुप पढ़ाई कराने के लिए कहा गया है।

10 हजार छात्रों को डेटा किया जा रहा एकत्रित
शहर के केंद्रीय विद्यालयों में करीब 10,000 विद्यार्थी कक्षा एक से लेकर १२ तक अध्ययनरत हैं। इन सभी छात्रों का डेटा केंद्रीय विद्यालय संगठन द्वारा कलैक्ट किया जा रहा है। यह देखा जा रहा है कि स्कूल वार कितने गु्रप का निर्धारण कर कक्षाओं का संचालन शुरु किया गया है और कितने विद्यार्थी इसमें जुड़े हैं। फिलहाल जिले के सभी स्कूलों में वॉटसग्रुप एवं जूम एप के माध्यम से कक्षाओं का संचालन शुरु कर दिया गया है।

होम बेस्ड लर्निंग कटंटे कराए उपलब्ध
केंद्रीय विद्यालय संगठन ने कक्षा एक से लेकर 12 तक के छात्रों को होम बेस्ड लर्निंग कंटेट उपलब्ध कराए गए हैं। इंगिलश मेथस, ईवीएस, हिंदी जैसे विषयों के आडियो और वीडियो लैक्चर के साथ वर्कशीट उपलब्ध कराते हुए पढ़ाई कराने के लिए कहा गया है। इसके साथ ही जिन छात्रों के पास एंड्राईड मोबाल नहीं है उन्हें एनसीईआरटी, डीटीएच चैनलों प्रसारण के माध्यम से देखने और किसी भी तरह का डाउट होने पर मैसेज, फोन काल के माध्यम से पढ़ाने के लिए कहा है।

इन स्कूलों में शुरु हो गई तैयारी
केंद्रीय विद्यालय गढ़ा में वॉटसअप ग्रुप तैयार कर पढ़ाई शुरु करा दी गई है। प्राचार्य एसके सोनी कहते हैं कि हमनें 40 मिनिट की जगह 1 घंटे की क्लास ले रहे हैं। 450 छात्रों को जोड़ा गया है। नियमित कक्षाओं की तरह ही पढ़ाई का शेड्यूल तैयार किया है। केद्रीय विद्यालय सीएमएम के प्राचार्य एसके नामदेव ने बताया कि वाटसअप ग्रुप के साथ ही, एनसीईआरटी के चैनल के माध्यम से अध्ययन कराया जा रहा है। केवि खमरिया टीचर एवं एवं अभा केंद्रीय एआईकेवीटीए के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीराम तिवारी ने कहा कि 6 वीं से 12 वीं तक के ग्रुप बनाया गया है जिसमें ऑनलाइन टीचिंग कराई जा रही है। स्कूलों में खुद अपना टाईम टेबिल बनाकर पढ़ा रहे हैं।

Mayank Kumar Sahu Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned