दिनदहाड़े चालक पर बर्बरता दिखाने वाला गाजियाबाद से गिरफ्तार, पुलिस ने निकाला शहर में जुलूस

फॉलोअप-मुख्य आरोपी में शामिल चंदन चकमा देकर भागने में सफल, नेपाल भागने वाले थे आरोपी

By: santosh singh

Published: 16 Oct 2020, 11:50 PM IST

जबलपुर। लोडिंग ऑटो की टक्कर से स्कूटी सवार दो युवतियों के घायल होने पर चालक के साथ बर्बरता दिखाने वाले एक आरोपी को पुलिस ने गाजियाबाद में गिरफ्तार कर लिया। मौके से दूसरा आरोपी भागने में सफल रहा। दोनों मुख्य आरोपी इनाम घोषित होने के बाद नेपाल भागने की फिराक में थे। गिरफ्त में आए आरोपी का पुलिस ने अधारताल क्षेत्र में जुलूस निकाला और फिर कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे जेल भेज दिया गया। आरोपी के खिलाफ जिला दंडाधिकारी ने एनएसए का आदेश भी जारी किया था। इस मामले में भी उसे गिरफ्तार कर केंद्रीय जेल जबलपुर में निरूद्ध कराया गया।

Police arrested.jpg
IMAGE CREDIT: patrika

एएसपी नार्थ आईपीएस अगम जैन ने बताया कि 11 अक्टूबर को लोडिंग ऑटो से स्कूटी सवार दो युवतियां घायल हो गई थीं। ऑटो भी पलट गया था। ऑटो में लोहे की सेंटिंग लोड थी। युवतियों ने परिचित साई विहार कॉलोनी निवासी अक्षय शिवहरे और लालमाटी घमापुर निवासी मनोज दुबे को बुला लिया। इसी बीच एक युवती ने मंगेतर जयप्रकाश नगर अधारताल निवासी चंदन सिंह को बुला लिया। चंदन मौके पर साथी नेता कॉलोनी निवासी अभिषेक दुबे उर्फ गुडी के साथ लाल कार से पहुंचा। दोनों मुख्य आरोपी ने चालक अजीत विश्वकर्मा को बर्बरता से पीटा। फिर बाइक पर अक्षय व मनोज दुबे की मदद से थाने छोड़ आए। वहां युवतियों की शिकायत पर पुलिस ने चालक के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया।

julush.jpg
IMAGE CREDIT: patrika

छह घंटे बाद चालक को छोड़ा-
रात दस बजे चालक के परिजन पहुंचे। तब उसे थाने से जमानत पर छोड़ा गया। पुलिस का दावा है कि तब तक चालक ने खुद के साथ मारपीट के बारे में कुछ नहीं बताया था। 12 नवम्बर को मारपीट सम्बंधी वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने और किरकिरी के बाद अधारताल थाने में हत्या के प्रयास सहित मारपीट का प्रकरण दर्ज हुआ। 13 नवम्बर को पुलिस ने अक्षय व मनोज को गिरफ्तार कर लिया। जबकि चंदन व अभिषेक की गिरफ्तारी पर एसपी ने 10-10 हजार का इनाम घोषित किया।

कई राज्यों की पुलिस से गिरफ्तारी में मांगा सहयोग-
एएसपी जैन के मुताबिक फरार आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए सीमावर्ती राज्यों की पुलिस को भी खबर दी गई थी। यूपी की गाजियाबाद पुलिस की मदद से अभिषेक दुबे को गिरफ्तार किया गया। मामले में अब चंदन ही फरार है। वारदात में प्रयुक्त कार व बाइक जब्त किए जा चुके हैं। शुक्रवार को अभिषेक का पुलिस ने अधारताल में क्षेत्र में जुलूस निकाला। 40 वर्षीय अभिषेक पिछले 20 वर्षों से अपराध में लिप्त है। उसके खिलाफ हत्या, हत्या के प्रयास, आम्र्स एक्ट, आबकारी, मारपीट के कुल 14 प्रकरण दर्ज हैं। इसमें 13 अधारताल तो एक ग्वारीघाट में दर्ज है।

Show More
santosh singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned