ram mandir: तारीख तय नहीं पर अयोध्या में जल्द बनेगा भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर

डा. प्रवीण तोगडिय़ा से कार्यकर्ताओं ने एक ही सवाल पूछा- राम मंदिर कब बनेगा? , जवाब सुनकर जताया उत्साह, हिंदुओं को समृद्ध बनाने की भी बात कही

By: deepak deewan

Published: 11 Sep 2017, 03:22 PM IST

जबलपुर। अयोध्या में श्रीराम का भव्य मंदिर जरूर बनेगा। इसके लिए अभी कोई तारीख तय नहीं है पर मंदिर निर्माण जल्द होगा। विश्व हिंदू परिषद के कार्यकारी अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष डा. प्रवीण तोगडिय़ा ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए यह बात कही। रविवार को जबलपुर आए डा. तोगडिय़ा ने अनेक कार्यक्रमोंं में भाग लिया।


बात हिंदुओं के सम्मान की
शहर में डा. तोगडिय़ा के अनेक कार्यक्रमों के बीच विहिप की प्रांत प्रखंड बैठक भी आयोजित की गई थी। प्रज्ञा मंडपम में आयोजित प्रांत प्रखंड जिला पदाधिकारियों की इस बैठक में बड़ी संख्या में पदाधिकारी और कार्यकर्ता उपस्थित थे। बैठक में डा. तोगडिय़ा के आने से विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल से जुड़े कार्यकर्ताओं और पदाधिकारी उत्साहित हो उठे। कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों के मन में एक ही जिज्ञासा थी और डा. तोगडिय़ा को अपने रूबरू देख वे खुद को रोक नहीं सके। सभी ने एकस्वर से डा. तोगडिय़ा से पूछा- रामलला का मंदिर कब बनेगा? इस पर डा. तोगडिय़ा ने कहा- अयोध्या में श्रीराम का मंदिर जरूर बनेगा। इसके लिए अभी कोई तारीख नहीं बता सकते पर मंदिर निर्माण जल्द होगा यह तय है। उन्होंने कहा- अयोध्या में श्रीराम का भव्य मंदिर का निर्माण किया जाएगा। भारत के हिंदुओं को राम मंदिर जल्द मिलेगा, यह दुनियाभर के हिंदुओं के सम्मान की बात है।


समृद्ध बनें हिंदू
डा. तोगडिय़ा ने विहिप कार्यकर्ताओं-पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए हिंदुओं की समृद्धि की भी बात कही। उन्होंने हिंदुओं को संपन्न और समृद्ध बनाने पर खासा जोर दिया। उन्होंने कहा कि हर घर से रोज एक मु_ी अनाज एकत्रित किया जाए।


हम एक, हमारे पूर्वज भी एक
वे सिंधी धर्मशाला में चल रहे श्रीमदभागवत ज्ञान यज्ञ में भी पहुंचे। श्रीमदभागवत ज्ञान यज्ञ सप्ताह के पंचम दिन बड़ी संख्या में उपस्थित श्रद्धालुओं के समक्ष उनका सम्मान किया गया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि भारत के १०० करोड़ हिंदू एक हैं, हमारे पूर्वज भी एक ही हैं। विश्व मेंं ऐसा और कहीं नहीं हैं। दुनियाभर मे अनेक धर्म हैं, पर इनके माननेवालों की संख्या २० करोड़ से ज्यादा कहीं भी नहीं है। यही नहीं इनके पूर्वज भी एक नहीं हैं।

deepak deewan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned