ग्रामीणों ने रेत खदान में देर रात की सर्जिकल स्ट्राइक, मच गया हंगामा

मनमाने खनन पर नायब तहसीलदार की उदासीनता से आक्रोशित ग्रामीणों की कार्रवाई

By: amaresh singh

Published: 24 May 2018, 06:52 PM IST

कटनी। ग्राम पंचायत खरहटा में मनमाना रेत खनन की शिकायत पर नायब तहसीलदार व प्रशासन द्वारा ठोस कार्रवाई नहीं करने के बाद ग्रामीणों का गुस्सा फूट पड़ा। बड़ी संख्या में ग्रामीण एकत्रित हुए और बुधवार रात खरहटा रेत खदान पर सर्जिकल स्ट्राइक कर दी।

अवैध भंडारण की पोल खोली

रेत खनन के बाद समीप में अवैध भंडारण की पोल खोली और नायब तहसीलदार सहित स्थानीय प्रशासन को कार्रवाई के लिए बुलवाया। ग्रामीणों ने बताया कि खनिज विभाग द्वारा नई रेत नीति के तहत ग्राम पंचायत को रेत खदान खरहटा के संचालन की जवाबदारी सौंपी है। इसी खदान में मनमाना खनन की शिकायत 21 मई को नायब तहसीलदार हेमांग प्रिया से की थी। ज्ञापन लिए जाने के दौरान उन्होंने ठोस कार्रवाई का आश्वासन दिया था। दो दिन तक कार्रवाई नहीं होने के बाद 23 मई की रात ग्रामीण स्पॉट पर पहुंचे और रेत के अवैध खनन के साथ ही भंडारण पर कार्रवाई की मांग की।


ग्रामीणों का आरोप
- रेत खदान का सीमांकन राजस्व विभाग ने नहीं किया, इससे चिन्हित एरिया से बाहर खनन की आशंका।
- पंचायत से खदान संचालन में भंडारण की अनुमति नहीं होने के बाद भी सरपंच द्वारा बड़े पैमाने पर भंडारण किया गया।


स्पॉट पर अमला भेज रहे हैं

खरहटा रेत खदान में बुधवार रात ग्रामीण बड़ी संख्या में एकत्रित हुए और रेत के अवैध खनन सहित भंडारण की शिकायत मिली है। हम स्पॉट पर अमला भेज रहे हैं।
हेमांग प्रिया, नायब तहसीलदार बड़वारा

लाठी-डंडों के साथ मारपीट शुरू हो गई
थाना कैमोर के मुख्य बाजार साइंस कॉलेज पेट्रोल पंप के पास दो छात्र गुटों में बुधवार रात सोशल मीडिया में पोस्ट को लेकर विवाद हो गया। एक गुट ने दूसरे गुट को झगडऩे के लिए सोशल मीडिया पर ही चुनौती दी बवाल मच गया। पहले पेट्रोल पंप के पास खलवारा बाजार सहित स्थानीय युवक एकत्रित हो गए, उधर अमरैयापार से करीब तीन 30 से अधिक युवक बाइकों पर सवार होकर वहां पहुंचे। दोनों गुटों ेमें लाठी-डंडों के साथ मारपीट शुरू हो गई। यहां स्थित आधा दर्जन दुकानों में भी युवकों ने तोडफ़ोड़ करते हुए आतंक मचाया। विवाद की सूचना पर जब पुलिस पहुंची तो 8-10 बाइकें छोड़कर युवक भाग खड़े हुए। दूसरे गुट के युवकों ने बाइकों को आग लगाने का प्रयास किया तो पुलिस ने लाठी चलाकर उन्हें खदेड़ दिया। सूचना पर कैमोर के अलावा विजयराघवगढ़ से भी पुलिस फोर्स बुलाई गई। करीब 40 की संख्या में पुलिसकर्मियों ने भीड़ पर काबू पाया। एसपी अतुल सिंह ने बताया कि मामले में मोनू सेठी नामक युवक को चोटें आई हैं। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए हल्का बल प्रयोग किया गया। देर रात जिले से भी पुलिस बल घटनास्थल पर भेजा गया है। मौके पर एडीशनल एसपी विवेक कुमार लाल, आरआई केशव सिंह चौहान, कुठला, बरही, एनकेजे थानों के प्रभारी भी मौजूद हैं।

amaresh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned