गणेश जी की पूजा का सर्वार्थ सिद्धि मुहूर्त आज, शादी विवाह की बाधा हो जाएगी दूर: आज का पंचांग

गणेश जी की पूजा का सर्वार्थ सिद्धि मुहूर्त आज, शादी विवाह की बाधा हो जाएगी दूर: आज का पंचांग

 

By: Lalit kostha

Updated: 27 Nov 2019, 08:37 AM IST

जबलपुर। शुभ विक्रम संवत् : 2076, संवत्सर का नाम : परिधावी, शाके संवत् : 1941, हिजरी संवत् : 1441, मु.मास: रवि उलअव्वल 29, अयन : दक्षिणायन, ऋतु : शरद, मास : मार्गशीर्ष, पक्ष : शुक्ल
तिथि - नंदा तिथि प्रतिपदा रात्रि 7.50 तक उपरांत भद्रा तिथि द्वितीया रहेगी। नंदा तिथि में सभी प्रकार के मांगलिक कार्य संपादित किए जा सकते हैं। इस तिथि में यात्रा, क्रय विक्रय, सवारी, आभूषण निर्माण, साजसज्जा विपणि व्यापार, कला कौशल तथा वाटिका रोपण जैसे कार्य शुभ तथा मंगलकारी माने जाते हैं। व्यापारारंभ हेतु यह तिथि उत्तम रहेगी।
योग- रात्रि 8.26 तक सुकर्म उपरांत धृति योग रहेगा। शुभ तथा मंगलकारी कार्यों हेतु सुकर्म योग शुभ है।
विशिष्ट योगर्- आज देवदर्शन, क्रय विक्रय मित्र मिलन उग्रकर्मचारण, औषधि सेवन जैसे कार्य शुभ तथा सुखद रहेंगे।
करण- सूर्योदय काल से किस्तुघ्र उपरंात बब तदनंंतर बालव करण का प्रवेश होगा। करण सामान्य है।
नक्षत्र- मिश्रसंज्ञक तिर्यड़मुख नक्षत्र अनुराधा रात्रि प्रात: 9.28 तक उपरांत ज्येष्ठा नक्षत्र रहेगा। अनुराधा नक्षत्र में सभी प्रकार के मांगलिक कार्य शुभ रहते हैं। वहीं इस नक्षत्र में विवाह, गृहारंभ, गायन वादन, पशुपालन चिकित्सा, पौधरोपण, यात्रा, व्यापार वाणिज्य जैसे कार्य अत्यंत कल्याणकारी माने जाते हैं। विद्यारंभ हेतु भी यह उत्तम माना जाता है।

 

panchang01.png

शुभ मुहूर्त- आज विपणि ब्यापार, क्रय विक्रय पठन पाठन, खनिज संपदा, शिल्प विद्या, लेखन, वाणिज्य ब्यवसाय तथा पशुपालन जैसे कार्य अत्यंत शुभ तथा सुखद माने जाते है।
श्रेष्ठ चौघडि़ए - आज प्रात: 6.00 से 9.00 लाभ, अमृत दोपहर 4.30 से 6.00 लाभ तथा रात्रि 7.30 से 10.30 शुभ तथा अमृत की चौघडिय़ा शुभ तथा मंगलकारी रहेगी।
व्रतोत्सव- आज : आज सर्वार्थ सिद्ध योग के साथ रुद्रव्रत का व्रत व्रतोत्सव पर्व रहेगा। मार्गशीर्ष बुधवार के दिन गणपति आराधना कल्याणकारी रहेगी।
चन्द्रमा : दिवस रात्रि पर्यंत तक मंगल प्रधान राशि वृश्चिक राशि में संचरण करेगा।

ग्रह राशि नक्षत्र परिवर्तन: सूर्य के वृश्चिक राशि में गुरु धनु राशि में तथा शनि धनु राशि के साथ सभी ग्रह यथा राशि पर स्थित है, सूर्य का अनुराधा नक्षत्र में संचरण रहेगा।
दिशाशूल: आज का दिशाशूल उत्तर दिशा में रहता है, इस दिशा की व्यापारिक यात्रा को यथा संभव टालना हितकर है। चन्द्रमा का वास उत्तर दिशा में है, सन्मुख एवं दाहिना चन्द्रमा शुभ माना जाता है।
राहुकाल: दोपहर 12.00.00 बजे से 1.30.00 बजे तक। (शुभ कार्य के लिए वर्जित)
आज जन्म लेने वाले बच्चे -आज जन्मे बालकों का नामाक्षर ना,नी,ने,नू अक्षर से आरंभ कर सकते हैं। अनुराधा नक्षत्र में जन्मे बालकों की राशि वृश्चिक होगी। राशि स्वामी मंगल तथा रजतपाद पाया में जन्म माना जाएगा। वृश्चिक राशि के जातक प्राय: कलाप्रेमी, गीत संगीत में रुचि रखने वाले, सुंदर, नैसर्गिक कार्यों में रुचि रखने वाले, समाज सेवी, धनवान, उदारवादी, मिलनसार, ललित कला में रुचि रखने वाले होते हंै।

Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned