मप्र में अब चलेंगी बर्फीली हवाएं, मौसम विभाग ने किया अलर्ट

मप्र में अब चलेंगी बर्फीली हवाएं, मौसम विभाग ने किया अलर्ट

By: Lalit kostha

Published: 18 Dec 2018, 11:06 AM IST

जबलपुर। दो दिनों की बूंदाबांदी के बाद मंगलवार को मौसम साफ हुआ। जिससे ठंड और बढ़ गई। सुबह सूर्यदेव ने जब दर्शन दिए तो लोगों ने राहत की सांस ली। छतों से लेकर सडक़ों तक धूप सेकने वाले देखे गए। कार्यालयों के बाहर कर्मचारी व अधिकारी धूप का आनंद लेते भी नजर आ रहे हैं। मौसम विभाग के अनुसार बादलों के छंटने के बाद अब कड़ाके की ठंड से प्रदेश कंप-कंपाएगा। बर्फीली हवाओं से ठिठुरन तो बढ़ेगी ही, साथ में लोगों को जबरदस्त ठंड भी लगेगी। मंगलवार सुबह 11 बजे का तापमान 20 से 22 डिग्री के बीच रहा। हवाओं की रफ्तार 10 किमी प्रति घंटा दर्ज की गई है।

news facts- दिनभर छाए रहे बादल, बंूदाबांदी के बीच कड़ाके की सर्दी से छूटी कंपकंपी

हवा में बढ़ी नमी से आसमान बादलों से ढंके रहने और कोहरा रहने के साथ मौसम का मिजाज बदल गया। दिन भर धूप नहीं खिली। कुछ जगह बंूदाबांदी के असर से सर्दी का अहसास ज्यादा हुआ है। लोग गर्म कपड़े पहनकर घरों से निकले और शाम को चौक-चौराहों पर चहल-पहल कम दिखी। मंगलवार को सर्दी और बढ़ सकती है। सोमवार को उत्तरी हवा के साथ हिमालय की तराई की ओर से आई सर्दी ने फिजा बदल दी। जगह-जगह लोगों ने अलाव भी जलाये। इस दिन शहर में अधिकतम तापमान सामान्य से 6 डिग्री कम 19.9 डिग्री सेल्सियस रहा। न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस के साथ सामान्य के स्तर पहुंच गया।

जबकि एक दिन पहले का तापमान 8 डिग्री सेल्सियस था। रात के तापमान में दो डिग्री वृद्धि के बावजूद 3-4 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चली उत्तरी हवा और बंूदाबांदी के कारण सर्दी बढ़ी। सुबह की आद्र्रता 61 एवं शाम की आद्र्रता 53 प्रतिशत रही। मौसम विभाग के वैज्ञानिकों का पूर्वानुमान है कि सम्भाग एवं आसपास के क्षेत्रों में कुछ जगह बंूदाबांदी या बौछारें पड़ सकती हैं। बारिश हुई तो पारे में और तेजी से गिरावट आएगी। आंध्रप्रदेश के ऊपर बने साइक्लोन एवं बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के क्षेत्र के कारण बादल छाए हैं। दो दिन तक मौसम का मिजाज ऐसा ही रहने का पूर्वानुमान है।

Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned