मौसम विभाग की चेतावनी, पूरे प्रदेश में फिर पड़ेगी कड़ाके की ठंड

मौसम विभाग की चेतावनी, पूरे प्रदेश में फिर पड़ेगी कड़ाके की ठंड

Lalit kostha | Publish: Feb, 15 2018 09:53:11 AM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

बादल छंटे कोहरे के साथ सदीज़् बढऩे के आसार, ट्रेनों चाल अब भी नहीं सुधरी

जबलपुर. तीन दिन की बारिश के बाद बुधवार को आसमान साफ होने पर हल्की धूप निकली। नमी बढऩे से सुबह और शाम के समय कुछ स्थानों पर कोहरा देखा गया। हवा की दिशा उत्तरी होने से ठंड का भी अहसास हुआ। मौसम विभाग के विशेषज्ञों के अनुसार अभी 3-4 दिन तक तापमान में गिरावट आने से सदीज़् बढ़ेगी। शहर में बुधवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से 3 डिग्री अधिक 14.8 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री कम 24.3 डिग्री सेल्सियस दजज़् किया गया। सुबह और शाम की आद्रज़्ता क्रमश: 89 और 49 प्रतिशत रही। उत्तरी हवा 3 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चली। मौसम विभाग के वैज्ञानिक सहायक देवेन्द्र तिवारी के अनुसार तीन दिन में 20.6 मिमी बारिश हुई। कोहरा के साथ सदीज़् बढऩे का पूवानज़्ुमान है। तीन दिन बाद गमीज़् बढ़ेगी।

READ MORE-

सोने की कीमत में भारी गिरावट, जेवरों की जमकर हो रही खरीददारी

500 और 2000 के नोट जोड़कर रखने वालों के लिए बुरी खबर

पवन-श्रीधाम की बिगड़ी चाल देर से आई 24 से ज्यादा ट्रेनें
ट्रेनों की लेटलतफी रुकने का नाम नहीं ले रही है। बुधवार को पवन एक्सप्रेस और श्रीधाम समेत दो दजज़्न ट्रेनें कई घंटे की देरी से जबलपुर पहुंची। इससे यात्रियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। जानकारी के अनुसार 11062 अप दरभंगा-एलटीटी पवन एक्सप्रेस 7.25 घंटे, 16360 अप पटना-एनाकज़्ुलम एक्सप्रेस 6.15 घंटे और 12191 डाउन नई दिल्ली-जबलपुर श्रीधाम एक्सप्रेस 4.15 घंटे की देरी से पहुंचीं। इसी तरह मुंबई-हावड़ा मेल 3.20 घंटे, फैजाबाद-एलटीटी 3.25, अजमेर-जबलपुर दयोदय एक्सप्रेस 2.10, निजामुद्दीन-जबलपुर महाकोशल एक्सप्रेस 1.45, निजामुद्दीन-जबलपुर गोंडवाना एक्सप्रेस 1.40, मुम्बई-जबलपुर गरीबरथ एक्सप्रेस 1.40, नागपुर-रीवा सुपरफास्ट 1.25, मुम्बई-वाराणसी महानगरी एक्सप्रेस 1.15 और अप पटना-बांद्रा सुपरफास्ट, राजेन्द्रनगर-एलटीटी जनता एक्सप्रेस, वाराणसी-एलटीटी सुपरफास्ट एक घंटे की देरी से पहुंचीं।

READ MORE-

शिवरात्रि के रहस्य इसलिए होता है शिव पार्वती का ब्याह

मप्र में भारी बारिश की चेतावनी, यहां तेज बारिश से खेत बने तालाब- देखें वीडियो

शिवरात्रि 2018: भगवान शिव का ये नाम हैं पाप नाशक, जानिए शिव नाम रहस्य

महाकाल और काशी विश्वनाथ की भक्ति में डूबे भक्त - देखें वीडियो

Ad Block is Banned