monsoon alert in india अब द्रोणिका कराएगी प्रदेश में झमाझम बारिश-देखें वीडियो


कम दबाव की बनी है द्रोणिका, बारिश का सिस्टम बिखरा, फुहार भी नहीं

By: Lalit kostha

Updated: 22 Aug 2017, 01:45 PM IST

जबलपुर। प्रदेश के कई जिलों में पर्याप्त बारिश नहीं होने से वहां सूखे के हालात बन रहे हैं। लोकसभा क्षेत्र जबलपुर की बात करें तो यहां के एक दर्जन से अधिक गांवों में खेत सूखने लगे हैं। वहीं जिन किसानों ने धान का रोपा लगाया था, वे मुरझाने लगे हैं। ऐसे में आने वाले दिनों में स्थिति और बिगडऩे के आसार नजर आ रहे हैं। मौसन विज्ञानियों की मानें तो सिस्टम अब पूरी तरह से बिखर गया है, जिससे बारिश की संभावना खत्म होती नजर आ रही है। हालांकि जब तक बादल छाए हुए हैं, तब तक इस बात से भी इंकार नहीं किया जा सकता कि बारिश नहीं होगी। आने वाला एक पखवाड़ा बारिश की संभावनाओं को तय करेगा।

ganesh chaturthi घर ला रहे हैं ऐसे गणेश जी तो बनेंगे पाप के भागीदार, जानें इसका रहस्य 

मानसून सीजन के आखिरी दौर में भी बारिश के सिस्टम बेकार साबित हो रहे हैं। शहर के आसमान पर सोमवार को बादल छाए रहे लेकिन फुहारंे भी नहीं पड़ीं। गर्मी के साथ उमस के कारण परेशानी हुई। सीजन में ७१७ मिमी बारिश हो चुकी है। जबकि पिछले वर्ष २१ अगस्त तक १२१८.७ मिमी बारिश हो चुकी थी। अधिकतम तापमान ३१.४ और न्यूनतम तापमान २४.६ दर्ज किया गया। मंगलवार सुबह की आद्र्रता ८२ प्रतिशत रही। दिन में दक्षिणी हवा की औसत रफ्तार ५ किमी प्रति घंटा रही। मौसम विभाग के वैज्ञानिक सहायक आरके दत्ता के अनुसार दक्षिण पश्चिम मप्र होते हुए कम दबाव की द्रोणिका बनी है और कम दबाव का चक्रवात भी है। संभाग के जिलों में कुछ स्थानों पर बारिश या गरज चमक के साथ बौछारें पडऩे की संभावना है। वहीं खंड बारिश भी हो सकती है। बारिश जोरदार होगी इसके लिए कोई ठोस कारण नहीं बताया जा सकता। रिमझिम फुहारों से भी लोगों को संतोष करना पड़ेगा। इसके अलावा उमस से परेशानी हो सकती है।

गणेश चतुर्थी 2017- घर में ऐसे बनाएं मोदक, प्रसन्न होंगे मंगलमूर्ति 

मंगलवार को सुबह से सूरज नहीं निकला है, ठंडी हवाएं चल रही हैं। बादलों के छाने से मौसम खुशनुमा हो चला है, फिर भी लोग बारिश का इंतजार कर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि जबलपुर में औसत से कम बारिश हुए हैं। तालाबों को भरने के लिए करीब १० इंच बारिश की दरकार है, जिसकी उम्मीद खत्म सी होती नजर आ रही है।

weather report Weather forecast
Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned