क्या गजब: 36 दिन में जांच दी शिक्षकों ने 2 लाख कापियां

क्या गजब: 36 दिन में जांच दी शिक्षकों ने  2 लाख कापियां
What amazing: Check in 36 days the teachers 2 lakhs board copy

Mayank Kumar Sahu | Publish: Apr, 23 2019 09:45:04 PM (IST) | Updated: Apr, 23 2019 09:45:05 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड परीक्षा का वैल्यूशन मंगलवार को हुआ खत्म, 20 मार्च से हुई थी जिले में शुरुआत, गतवर्ष की तुलना में कापियों की सँख्या रही आधी, शिक्षकों ने स्कूल परिसर स्थित मंदिर में की पूजा अर्चना

जबलपुर।
माध्यमिक शिक्षा मंडल की पिछले डेढ़ माह से चल रहा बोर्ड परीक्षा का मूल्यांकन मंगलवार को खत्म हो गया। 36 दिनों तक चली कापियों की जांच में मूल्यांकनकर्ताओं ने करीब दो लाख कापियों की जांच की। माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड द्वारा 20 मार्च को मूल्यांकन शुरू कराया गया था। हालांकि कापियों की जांच के लिए मंडल द्वारा 25 अप्रैल तक की मोहलत दी गई थी लेकिन मूल्यांकन केंद्र एमएलबी लक्ष्मी बाई कन्या उमावि द्वारा समय से दो दिन पहले कापियों की जांच पूरी कर ली गई। हालांकि गतवर्ष की तुलना में बोर्ड परीक्षाओं की कापियो की संख्या आधी ही रही। पिछले वर्ष जिले में करीब 5 लाख कापियों की खेप भेजी गई थी। मूल्यांकन केंद्र के अधिकारियों ने इस बार चुनाव को लेकर स्कूल के अधिग्रहण किए जाने, कमरों की कमी एवं मतदान सामग्री रखने आदि कारणों के चलते ने माशिमं बोर्ड से ज्यादा कापियां न भेजने की गुहार लगाई थी जिसके चलते करीब 2 लाख कापियां ही जिले में भेजी गई। 36 दिनों तक चली जांच के दौरान 150 से 350 वैल्यूअर उपस्थित रहे। मूल्यांकन समय पर पूर्ण होने पर सभी शिक्षकों ने स्कूल परिसर स्थित मंदिर में पूजा अर्चना की।
1 लाख 18 हजार दसवीं की कापियां
माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा जिले में भेजी गई उत्तरपुस्तिकाओं में सर्वाधिक उत्तरपुस्तिकाएं 10वीं कक्षा की थी। जो कि करीब 1 लाख 18 हजार कापियां शामिल थी। जबकि दूसरी और 12वीं कक्षा में 75 हजार 272 कापियां भेजी गई। 20 मार्च से जिले में मूल्यांकन शुरू हुआ था। दो चरणों में मूल्यांकन हुआ। इस बीच तीन जिलों से एग्रीक्लचर, इकॉनिमक्स विषय की कापियां अतिरिक्त भेजी गई थी।
-पिछले डेढ़ माह से चल रहा बोर्ड परीक्षा का मूल्यांकन आज खत्म हो गया है। यह मूल्यांकन 36 दिनों तक चला है। चुनाव कार्य के चलते स्कूल का अधिग्रहण होने को लेकर हमने ज्यादा कापियां न भेजने के लिए कहा था।
-प्रभा मिश्रा, मूल्यांकन अधिकारी एमएलबी कन्या उमावि

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned