wine and sand murder: शराब और रेत के वर्चस्व की भिड़ंत में अब तक तीन हत्याएं

पुलिस के लिए चुनौती बने मामले

By: Lalit kostha

Published: 26 Jun 2020, 01:03 PM IST

जबलपुर। जिले में रेत और शराब के अवैध विक्रय को लेकर होने वाला विवाद अब खूनी संघर्ष में तब्दील होने लगा है। जिले में रेत और शराब के विवाद में दो डबल मर्डर सामने आ चुके हैं। रेत खनन और परिवहन के दौरान कई स्थानों पर अवैध वसूली को लेकर मारपीट के मामले भी बढ़े हैं। जिले में शहपुरा, बेलखेड़ा, चरगवां, कटंगी, मझगवां में रेत विवाद चरम पर है। यहां वर्चस्व बनाने की बात पर गुट आए दिन आमने-सामने आ जाते हैं।
जानकारी के अनुसार रेत और शराब के अवैध कारोबार में एक समानांतर सिंडीकेट तैयार हो गया है। इसमें राजनीतिक दल सहित पुलिस भी शामिल है। लॉकडाउन में इसका सबसे वीभत्स चेहरा सामने आया। नौ मई को तिलवारा में दो पक्षों में खूनी संघर्ष और डबल मर्डर का कारण कच्ची शराब बनाना और विरोध करना है। रेत के वर्चस्व को लेकर बरगी विधानसभा क्षेत्र में सबसे अधिक तनाव बना हुआ है।

 

murder_1.jpg

केस-1
09 मई को तिलवारा थाना अंतर्गत घुंसौर में कच्ची शराब के विवाद पर दो पक्षों में खूनी संघर्ष हुआ। इसमें में दो लोगों की जान गई।
केस-2
09 जून को ही ग्वारीघाट के दुर्गा नगर में शराब छिपाने और अवैध बिक्री को लेकर एक माह पहले हुए विवाद पर दो भाइयों की हत्या कर दी गई।
केस-3
10 जून की रात रेत के विवाद में भेड़ाघाट के लम्हेटाघाट में 22 वर्षीय युवक की चाकू से गोद कर हत्या कर दी गई।

ये वारदातें भी
- 12 जून को संजीवनी नगर में रेत लेकर पहुंचे ट्रक चालक से पांच हजार रुपए मांगे
- 12 जून की रात विदिशा की रॉयल्टी पर शहपुरा में डम्पर जब्त
- 12 जून की रात कोतवाली में दूध व्यवसायी पर शराब की मुखबिरी पर जानलेवा वार।
- 11 जून की रात शराब की मुखबिरी के शक में बलवा-मारपीट
- 09 जून को शहपुरा में पूर्व और सीमावर्ती जिले के विधायक पुत्र आमने-सामने आ गए।

Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned