महिला की मौत के मामले में खुला राज, इसलिए महिला ने खाया जहर

महिला की मौत के मामले में खुला राज, इसलिए महिला ने खाया जहर

amaresh singh | Publish: Sep, 11 2018 06:35:31 PM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

जिला अस्पताल में इलाज के दौरान हो गई मौत

नरसिंहपुर/जबलपुर। जहरीला पदार्थ का सेवन के बाद जिला अस्पताल मे भर्ती की गयी खुरपा बड़ा निवासी एक नवविवाहिता ने रविवार को इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था। संदिग्ध मामला होने की वजह से पुलिस ने मृतका के मायके पक्ष के लोगों के आने के बाद पोस्ट मार्टम कराने का निर्णय लिया। सोमवार को पुलिस के समक्ष अस्पताल पहुंचे मृतका के पिता व अन्य मायके वालों ने महिला के पति व ससुराल पक्ष के अन्य लोगों पर अपनी बेटी को प्रताडि़त करने का आरोप लगाते हुए इनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। मायके वाालों ने कहा कि उनकी बेटी प्रताडि़त किए जाने की बात हर समय बताती थी लेकिन हम लोगों ने सोचा कि धीरे-धीरे सब ठीक हो जाएगा। इसके बाद उनकी प्रताडऩा बढ़ती गई,जिसके चलते उसने जहरीला पदार्थ खाने जैसा कदम उठाया।


गए थे खेत में

उल्लेखनीय है कि खुरपा बड़ा निवासी इंदुमति पति रमेश चौधरी ने अपने घर मे कथित रूप से उस वक्त अज्ञात जहर का सेवन कर लिया था जब उसका पति प्रमेश व सास खेत गये हुए थे। शाम को जब दोनों लौटकर आये तो देखा कि इंदुमति अचेत अवस्था मे पड़ी है। तब उसे जिला अस्पताल लाया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी।


एकलौती बेटी थी
भोपाल निवासी टाबल सिंह चौधरी ने बताया कि अपनी इकलौती बेटी इंदुमति का विवाह खुरपा बड़ा निवासी प्रमेश चौधरी के साथ करीब 2 वर्ष पूर्व कराया था। शादी के बाद से ही उसे ससुराल मे आये दिन दहेज को लेकर मानसिक व शारीरिक रूप से प्रताडि़त किया जाने लगा। जब इंदुमति हमें इस बारे मे बताती तो वे उसे और भी प्रताडि़त करते। उसके ससुराल वाले उसे करेली के एक निजी स्कूल मे जबरन नौकरी करवा रहे थे। गर्भावस्था के दौरान परेशानी हालातों के बीच इंदुमति ने एक बेटे को जन्म दिया जिसका जन्म से ही स्वास्थ्य खराब है और उसका उपचार भी हम करवा रहे हैं। जिला अस्पताल मे पीएम के दौरान इंदुमति के मायके पक्ष के परिजनों मौजूद रहे। इस दौरान इंदुमति की
मां फूलवती चौधरी पूरे समय अचेत हो गई।

Ad Block is Banned