जबलपुर में महिला की हत्या, शव पर लिखा-‘प्यार में धोखा’

जबलपुर में महिला की हत्या, शव पर लिखा-‘प्यार में धोखा’

 

By: Lalit kostha

Published: 07 Sep 2021, 10:15 AM IST

जबलपुर। ग्वारीघाट थाना क्षेत्र में 24 वर्षीय महिला की गला रेतने के बाद चेहरे पर पत्थर पटककर हत्या कर दी गई। महिला का शव उसके दोस्त के घर पर मिला। हत्या के बाद आरोपी ने शव पर कागज चिपकाया और लिखा-‘प्यार में धोखा’। वारदात के बाद से संदेही फरार है। महिला मानव तस्करी से जुड़े एक मामले में अहम गवाह थी। पुलिस ने हत्या का प्रकरण दर्ज किया। प्रथम दृष्टया हत्या का कारण प्रेम प्रसंग माना जा रहा है।

पुलिस के अनुसार सेमवार सुबह भीमनगर के पास लालकुआं निवासी राजू गढ़वाल ने सूचना दी कि उसके भाई भूपेंद्र उर्फ पप्पू गढ़वाल के घर में एक महिला का शव रक्तरंजित अवस्था में पड़ा है। पुलिस ने स्थानीय लोगों से पूछताछ कर शव की पहचान पुरानी बस्ती में रहने वाली शालिनी जैन (24) के रूप में की। शव के पास ही हत्या में प्रयुक्त पथर मिला। मृतका की नानी सोनाबाई ने पुलिस को बताया कि शालिनी तलाक के बाद अपनी दो साल की बेटी के साथ उसके पास रहती थी। रविवार शाम वह घर से निकली थी। उसके बाद घर नहीं लौटी। पुलिस के अनुसार शालिनी ने छह साल पहले परसवाड़ा भूकंप कॉलोनी निवासी कपड़े की दुकान लगाने वाले एक व्यक्ति के साथ प्रेमविवाह किया था।

 

Murders in Chennai

शादी के कुछ समय बाद रिश्ता टूट गया। शालिनी अपनी बेटी को लेकर नानी के पास चली आई। पति के पास बेटे को छोड़ दिया। नानी के घर रहने के दौरान शालिनी का क्षेत्र में रहने वाले पप्पू गढ़वाल (48) से कुछ समय से मिलना-जुलना था। पप्पू अविवाहित है और मजदूरी करता है। वह पुश्तैनी मकान में ही एक हिस्से में भाई से अलग रह रहा है। शव के पास जिस प्रकार प्यार में धोखा मिलने की बात लिखकर कागज छोड़ा गया है, उससे मामला उलझ गया है।

चंगुल से छूटकर रिपोर्ट दर्ज कराई थी
शालिनी को जनवरी में अच्छे पैसे पर मजदूरी दिलाने का झांसा देकर परसवाड़ा निवासी संतोषी मराठा अपने साथ कोटा ले गई थी। सोनाबाई ने शालिनी की गुमशुदगी दर्ज कराई थी। उसे दस्तयाब करने पर मानव तस्करी का मामला उजागर हुआ था। मजदूरी का झांसा देकर शालिनी को राजस्थान में बेचने के लिए 2.80 लाख रुपए की बोली लगाई थी। लेकिन, सांवले रंग की वजह से वह बिकने से बच गई। युवतियां बेचने वाले गिरोह के चंगुल से बचकर वह मार्च में शहर लौटी थी। उसके बयान पर ग्वारीघाट और मदन महल पुलिस ने एक दम्पती सहित गिरोह में शामिल कुछ अन्य आरोपियों के विरुद्ध मानव तस्करी, बलात्कार, साजिश और बंधक बनाने के मामले में प्रकरण दर्ज किया था। इन मामले में शालिनी अहम गवाह थी।

Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned