किसान मेले में आया विश्व का सबसे बड़ा अमरुद

सबसे बड़ा अमरूद होने का दावा, देशी सब्जी भी आकर्षण का केंद्र, किसान मेले में एक्सरसाइज मशीन से लेकर भिंडी काटने की बिक रही कटर

 

जबलपुर।
किसान मेले में प्रदर्शन के लिए पहुंचा एक किलो वजनी अमरूद को देखकर लोग आश्चर्य में पड़ गए। इस अमरूद को विश्व का सबसे बड़ा अमरूद होने का दावा किया जा रहा है। इस अमरूद को वीएनआर गु्रप द्वारा नर्सरी में तैयार कर उत्पादित किया गया है। इसकी खासियत है कि यह दो साल में करीब 20 से 30 किलो फल देने लगता है। अमरूद के इस पौधे को 170 रुपए में न्यूनतम 500 पौधों की बुकिंग पर सेल किया जा रहा है। यह अमरूद पौन दो किलो तक का होता है। कृषि विवि के जवाहर प्रांगण में आयोजित किसान मेले में कई देशी सब्जियों जिसमें देशी सेमी, जैविक कद्दू, देशी कुंदरू, जैविक खाद, जैविक गुड़ आदि प्रजातियों के साथ ही किसानों से जुड़ी तकनीकी जानकारियों को स्टॉल लगाई गई है। इसी तरह देशी किमाच को मेले में प्रदर्शित किया गया है जिसका उपयोग सब्जी के रूप में खाने में किया जाता है।

ग्राफ्टिंग पौधे भी आए बिकने
कलम विधि से तैयार हुए बैगन, टमाटर, शिमला मिर्च, हरी मिर्च के पौधे भी स्टॉल में आकर्षण का केंद्र रहे। इन पौधों की खासियत है कि यह पूरी तरह रोगप्रतिरोधी होने के साथ ही जमीन में लगाने के साथ ही करीब डेढ़ माह में तैयार हो जाते हैं। प्रबंधक मुकेश खोडियार बताते हैं कि इसे रायपुर से लेकर आए हैं। इसके अलावा अनेक पौधों की व्हेरायटी प्रदर्शित की गई है अब तक हजार पौधे लोगों ने लिए हैं। मेले में वेटरनरी विवि के छात्रों द्वारा भी स्टॉल लगाई गई। डीन फिशरी कॉलेज डॉ.एसके महाजन ने बताया कि मछली पालन से जुड़ी तकनीकों को मेले में प्रदर्शित किया गया है।

मेले में घरेलू उत्पाद भी
मेला हालांकि किसानों पर आधारित है लेकिन मेले में किसानों से परे हटकर भी स्टॉले लगी हुई दिखाई दीं। इन स्टॉलों में एक्ससरसाइज की मशीनें, एलईडी बल्ब, भिंडी काटने की मशीन तो वहीं हो घरेलू उत्पाद आचार, पापड़, मोटापा कम करने की दवा आदि भी प्रदर्शित की गई हैं। वहीं मेले के परिसर में वाहन कंपनियां अपने उत्पादों के साथ दिखाई दी।

कुलपति ने किया भ्रमण
मेले का कुलपति डॉ.पीके बिसेन ने निरीक्षण किया उन्होंने विभिन्न स्टॉलों का जाएजा लिया। देशी जैविक सूरन, भटा, ककड़ी, ग्राफ्टिंग तकनीक की जानकारी ली। उन्होंने किसानों से आव्हान किया कि कृषि वैज्ञानिकों से लगातार जुड़े रहे ताकि कृषि की तकनीकों की जानकारी आपको मिल सके। दूसरे दिन अतिथियों में विधायक अजय विश्नोई, अशोक रोहाणी, सुशील तिवारी, विनय सक्सेना, वीयू कुलपति डॉ.पीडी जुयाल आदि उपस्थित थे।

Mayank Kumar Sahu Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned