Firing: बदमाशों ने भरे चौराहे घेरकर गोली मारी, अस्पताल में मौत

Firing: बदमाशों ने भरे चौराहे घेरकर गोली मारी, अस्पताल में मौत

deepak deewan | Publish: Dec, 08 2017 09:57:15 AM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

हनुमानताल के दुर्गा चौक पर सनसनीखेज वारदात, मृतक के साथियों ने भी आरोपितों के घर पर दागी गोलियां

जबलपुर. हनुमानताल के दुर्गा चौक के पास गुरुवार शाम बाइक सवार फरार बदमाशों ने एक व्यक्ति पर फायरिंग की। गम्भीर अवस्था में घायल को अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया। वारदात से इलाके में अफरा-तफरी मच गई। वारदात से नाराज मृतक के साथी आरोपितों के घर पहुंचे और फायरिंग की। सूचना पर भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा। हनुमानताल पुलिस ने बताया कि दुर्गा चौक निवासी कोमल सोनकर (४८) साथियों के साथ दुर्गा चौक के पास बातचीत कर रहा था, तभी बाइक सवार अंकित मराठा, अस्सू मराठा, अभिलाष मराठा, नितिन वानखेड़े समेत अन्य वहां पहुंचे और कोमल को घेरकर फायरिंग शुरू कर दी।


आधा दर्जन फायर किए
आरोपितों ने आधा दर्जन फायर किए गए। खून से लथपथ कोमल जमीन पर गिर गया। इसके बाद आरोपित भाग निकले। फायरिंग की जानकारी मिलते ही कोमल के परिजन व करीबी वहां पहुंचे। कोमल की सांसें टूटने लगीं थीं। उसे दमोहनाका स्थित निजी अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया। कोमल की मौत की सचना से अस्पताल में मौजूद लोग आक्रोशित हो गए और आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग करने लगे। पुलिस ने बताया कि वारदात के बाद मृतक के साथी आरोपितों के घर के बाहर पहुंचे और फायरिंग कर दी। आरोपितों के घर के बाहर पुलिस बल तैनात किया गया है।


मौके पर पहुंचे अफसर

फायरिंग की सूचना पर आला अफसर समेत क्राइम ब्रांच के एएसपी संदीप मिश्रा टीम के साथ मौके पर पहुंचे। अधिकारियों ने मौका-ए-वारदात का निरीक्षण किया। इधर अस्पताल में गोहलपुर थाना प्रभारी केपी यादव बल समेत अस्पताल पहुंच गए थे।
आखिरी लोकेशन धनवंतरि नगर
वारदात के बाद से ही कोमल के करीबी और पुलिस आरोपितों का पता लगाने में जुट गए थे। इस दौरान पता चला कि आरोपित धनवंतरी नगर की ओर देखे गए हैं। इसकी सूचना पुलिस को दी गई, तब तक आरोपित भाग गए थे।
२० अक्टूबर को भी की थी हत्या की कोशिश
कोमल २० अक्टूबर की दोपहर लगभग तीन बजे घर के बाहर बैठा था। तभी वहां बाइक से अनिल मराठा, अभिलाष मराठा, धीरेेन्द्र मराठा, पंकज मराठा, बंटी, अस्सू, नितिन, अंकित और शेखर पहुंचे और उस पर फायरिंग की। कोमल ने घर में घुसकर जान बचाई। वारदात में उसकी बेटी भी घायल हुई थी। मामले में आरोपितों पर हत्या के प्रयास, बलवा और विस्फोटक पदार्थ अधिनियम की धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज किया था। एएसपी जीपी पाराशर के अनुसार फरार आरोपितों ने कोमल की गोली मारकर हत्या की। इसके बाद कोमल के साथी आरोपितों के घर के बाहर पहुंचे और फायरिंग की। प्रकरण दर्ज कर जांच की जा रही है।
गिरफ्तारी की बात टालता रहा एसआई
कोमल के भाई ज्ञानचंद सोनकर ने बताया कि आरोपितों को उसने कई बार इलाके में घूमते हुए देखा। उसे आशंका थी कि आरोपित फिर से कोई वारदात कर सकते हैं। पुलिस को कई बार जानकारी देने के बाद भी गिरफ्तारी नहीं हुई, तो उसने सीएम हेल्पलाइन में शिकायत की। उसे थाने के एसआई मनोज बघेल ने बुलाया। लेकिन, जब गिरफ्तारी की बात ज्ञानचंद ने कही, तो एसआई ने बात टाल दी।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned