कोरोना कर्फ्यू में सरेराह युवक की हत्या

-गढ़ा थाना क्षेत्र के गौतम मढ़िया इलाके में वारदात

By: Ajay Chaturvedi

Published: 07 Jun 2021, 01:27 PM IST

जबलपुर. एक तरफ कोरोना कर्फ्यू, चप्पे-चप्पे पर पुलिस। पुलिस को सख्त हिदायत कि सड़क पर निकलने वाले हर सख्श पर नजर रखी जाए। लेकिन पुलिस की इस मुस्तैदी को धता बताते हुए सरेराह युवक की हत्या कर दी गई। इतना ही नहीं हत्या के बाद आरोपी मौके से भाग निकलने में भी सफल रहे।

विवेक (फाइल फोट)

घटना गढ़ा थाना क्षेत्र के गौतम मढ़िया के पास की है। बताया जा रहा है कि रात करीब 11.30 बजे बदमाशों ने घटना को अंजाम दिया। घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया और तफ्तीश शुरू कर दी। इस बीच पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा भी मौके पर पहुंच गए थे।

तिलवारा पुलिस के अनुसार गढ़ा निवासी राहुल ठाकुर अपने साथी, विवेक झारिया, सौरभ और आकाश के साथ तिलवारा घाट घूमने गया था। वहां नितिन चक्रवर्ती, करण चक्रवर्ती और सचिन चक्रवर्ती ने तीनों युवकों से मारपीट का प्रयास किया। राहुल और उसके साथी दौड़ कर खेतों में फिर एक आश्रम में जा छिपे। इससे नाराज नितिन करण और सचिन ने उनकी गाड़ियों में तोड़फोड़ की। इसकी जानकारी राहुल व उसके साथियों ने अपने परिजनों को दी जिसके बाद उनके परिजन तिलवारा थाने पहुंचे। सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंची लेकिन तब तक आरोपी भाग निकले थे। मामले में तिलवारा पुलिस ने नितिन, करण और सचिन के खिलाफ मामला दर्ज किया।

मारपीट में क्षतिग्रस्त वाहन

गौतम मढ़िया में रोक कर हत्या

गढ़ा थाना प्रभारी राकेश तिवारी ने बताया कि पीड़ित पक्ष तिलवारा थाने में रिपोर्ट दर्ज करा रहा था कि इसी दौरान विवेक वहां से निकल आया। विवेक और उसके साथी गौतम मढ़िया पहुंचे। यहां पर आधा दर्जन से अधिक आरोपियों ने विवेक झारिया समेत उसके साथियों को रोका और उन पर चाकू लाठी व अन्य चीजों से वार किया। घटना में विवेक को गंभीर चोटें आई और उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया। यह देख आरोपी मौके से भाग निकले। वहीं घायल अपने अन्य साथियों के साथ अस्पताल पहुंच गए। देर रात तक पुलिस आरोपियों का पता लगाने में जुटी रही।

Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned