44 साल बाद शहर ने देखी ओलों की ऐसी बारिश, जानिए आखिर क्यों बरसे इतने ओले सिर्फ जगदलपुर में

बारिश शहरवासियों के लिए खास थी क्योंकि 1976 के बाद पहली बार ऐसा हुआ कि आधे घंटे तक इतने बड़े पैमाने पर आसमान से ओले बरसे हों।

जगदलपुर. शहर में गुरुवार दोपहर 12.55 से 1.25 तक यानी करीब आधे घंटे तक ओलों की बारिश हुई। ओलों की यह बारिश शहरवासियों के लिए खास थी क्योंकि 1976 के बाद पहली बार ऐसा हुआ कि आधे घंटे तक इतने बड़े पैमाने पर आसमान से ओले बरसे हों। बारिश थमने के बाद जब लोग अपने मकान-दुकान से बाहर निकले तो उन्होंने पाया कि सडक़ पर बर्फ की चादर बिछी हुई है।

देरी से घुले इसलिए लोगों ने ज्यादा वक्त तक लुत्फ उठाया
युवा सडक़ों पर उतर आए और उन्होंने एक-दूसरे पर ओले उछालकर खूब मस्ती की। रायपुर मौसम विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक एचपी चंद्रा ने बताया कि २५ एमएम तक के ओले होने की वजह से वे देरी से घुले इसलिए लोगों को ज्यादा वक्त तक इसका लुत्फ उठाने का मौका मिला।

जानिए क्यों बरसे इतने ओले
मौसम विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक एपची चंद्रा ने बताया कि जगदलपुर में गुरुवार को हुई ओलों की बारिश मौसम विभाग के लिए भी अप्रत्याशित थी। उन्होंने बताया कि यहां इतने बड़े पैमाने पर ओले इसलिए बरसे क्योंकि यहां की भ्भौगोलिक दशा और बंगाल की खाड़ी से आ रही गर्म हवा ने लोकल सिस्टम निर्मित कर दिया। यह सिस्टम १० मिनट के अंदर बना और ४० मिनट तक सक्रिय रहा।

Badal Dewangan
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned