scriptAshish Marapi of the area is showing the skill of painting | चित्रकारी का हुनर दिखा रहा है क्षेत्र का आशीष मरापी | Patrika News

चित्रकारी का हुनर दिखा रहा है क्षेत्र का आशीष मरापी

अपनी कल्पनाओं के विभिन्न रंग चित्रकारी का हुनर दिखा रहे आशीष

जगदलपुर

Updated: April 02, 2022 12:33:06 am

बोरगांव/बडेडोंगर :~ अगर आप के भीतर कुछ करने का जज्बा है तो कोई भी रुकावट आपके आडे़ नहीं आ सकती। हर इंसान के अंदर कोई ना कोई प्रतिभा छुपी होती है और यदि इंसान अपनी प्रतिभा पहचानकर लगन से कुछ करे तो वह बहुत बेहतर कर सकता है। विकासखंड फरसगांव के अंदरूनी नक्सल प्रभावित क्षेत्र के ग्राम पंचायत बाड़ागांव के आश्रित ग्राम तुर्की के निवासी आशीष मरापी अपनी प्रतिभा को पहचानकर चित्रकला के क्षेत्र में काफी मेहनत कर रहा है। आशीष को बेशक कई विषम परिस्थितियों का सामना करना पड़ा हो लेकिन उसने अपनी हिम्मत ना हारते हुए अपनी प्रतिभा को काफी निखारा है। वो प्रदेश महासचिव प्रशासनिक रवि घोष, कोंडागांव जिला कलक्टर पुष्पेंद्र मीणा सहित कई फिल्मी कलाकारों के चित्र को अपने पेंसिल व ब्रुश से कैनवस में उतारा और जिला कलेक्टर को उनका पेंटिंग भेंट किया।
चित्रकारी का हुनर दिखा रहे आशीष मरापी, बिना गुरु के चित्रकारी में महारत, कैनवस पर उकेरता है कल्पनाओं के रंग
चित्रकारी का हुनर दिखा रहे आशीष मरापी, बिना गुरु के चित्रकारी में महारत, कैनवस पर उकेरता है कल्पनाओं के रंग
चित्रकला के साथ-साथ मूर्तिकला में भी महारत हासिल है

आशीष का कहना है कि बचपन से ही अपने पिता से अलग रहकर शादी व्याह में पेंटिंग कर अपने गरीब माता एवं भाईयों का भरण पोषण कर रहा है। पिता दो शादी करने के चलते पांच भाइयों में से तीन भाई मां के साथ के साथ पैत्रिक ग्राम फुंडेर से अलग हो कर ग्राम तुर्की ने आकर मां के साथ रहने लगे। मां आंगनबाड़ी कार्यकर्ता बड़ी मुश्किलों से परिवार का भरण पोषण कर रही थी। पांचवीं तक गांव में पढ़ाई सरकारी स्कूल में की लेकिन आर्थिक स्थिति ठीक ना होने के कारण आस पड़ोस के गांव में सरकारी स्कूलों के हॉस्टल में रहकर दसवीं कक्षा तक पढ़ाई की। दसवीं कक्षा के बाद आशीष की हालत दयनीय होने की वजह से घर का खर्चा चलाने के लिए शादी विवाह घर में पेंटिंग का काम करने लगा। उसे अपने क्षेत्र में बिना गुरु के ज्ञान हासिल है। बिना ग्राफ, बिना तकनीक, बिना मापतौल के फ्री हैंड चित्रकला के साथ साथ मूर्तिकला में भी महारथ हासिल हैं और उनके द्वारा बनाया गया कोई भी चित्र सटीक बैठता है।
जरूरत है एक उचित मंच की सरकार की बेरुखी से आहत
उनका कहना है कि सरकार की बेरुखी के कारण चित्रकला में प्रदर्शन करने वाले उचित मंच न मिलने के चलते इस क्षेत्र में काम नही करना चाहते और यह कला और कलात्मक कार्य करने वाली हस्तियां क्षेत्र में दम तोड़ती जा रही है। सरकार ऐतिहासिक धरोहरों पर कला का कार्य करवाए इससे कला के चित्रकारों को काम मिलेगा। प्राचीन धरोहरों पर भी काम कर सकते हैं। आशीष का कहना है कि सरकार प्राचीन धरोहरों पर कार्य करने के लिए विदेशों से चित्रकार बुलवाते हैं। लेकिन सरकार चाहे तो अपने ही प्रदेश से युवा चित्रकारों को मौका दे और रोजगार के आयाम प्रदान करे। नए युग में इंटीरियर की डिमांड अधिक बढ़ी है और नए युग में इंटीरियर के क्षेत्र में भी अच्छा काम कर सकते हैं।
-हमारे यहाँ के स्थानीय मूर्तिकार और कलाकार काफी प्रतिभाशाली हैं स्थानीय मूर्तिकारों को अपने जिले में संचालित प्रोजेक्ट के माध्यम से मार्केट उपलब्ध कराने का पूरा प्रयास करेंगे ताकि उनको रोजगार के अवसर मिल सके ।-पुष्पेंद्र मीणा, कोंडागांव कलेक्टर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

Ram Mandir : पांच गुम्बद वाला दुनिया का अकेला होगा राम मंदिर, जाने अलग दिखने वाली विशेषताएंसिर्फ पेट्रोल और डीजल ही नहीं, पांच चीजें हुईं सस्ती, केरल सरकार ने भी घटाया वैट, चेक करें आपके शहर में क्या हैं दामQuad Summit 2022: प्रधानमंत्री मोदी का जापान दौरा, क्वाड शिखर सम्मेलन में बाइडेन से अहम मुलाकात, जानें और किन मुद्दों पर होगी बात'हमारे लिए हमेशा लोग पहले होते हैं', पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती पर पीएम मोदीपैंगोंग झील पर जारी गतिरोध के बीच रेलवे ने क्यों दिया सुपरफास्ट ट्रेनों के लिए चीनी कंपनी को कॉन्ट्रैक्ट?IPL 2022 Point Table: गुजरात, राजस्थान, लखनऊ और बैंगलोर ने प्लेऑफ में बनाई जगहIPL 2022: टिम डेविड की तूफानी पारी, मुंबई ने दिल्ली को 5 विकेट से हराया, RCB प्लेऑफ मेंजून के अंत में आएगी कोरोना की चौथी लहर? जानिए AIIMS के पूर्व डायरेक्टर ने क्या दिया जवाब
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.