बस्तर ने भरी अपनी पहली ऐतिहासिक उड़ान, खिल गए बस्तरवासियों के चहरे

Badal Dewangan

Publish: Jun, 14 2018 02:02:48 PM (IST)

Jagdalpur, Chhattisgarh, India
बस्तर ने भरी अपनी पहली ऐतिहासिक उड़ान, खिल गए बस्तरवासियों के चहरे

बस्तरवासियों ने भरी अपनी ऐतिहासिक उड़ान, पटाखों के साथ विदा किया गया प्लेन

जगदलपुर. बस्तर से विमानसेवा का आगाज आखिरकार गुरुवार को हो ही गया। इसका शुभारंभ पीएम नरेंद्र मोदी ने भिलाई से किया। उड़ान के लिए एयर ओडिशा की 19 सीटर फ्लाइट यहां के हवाईअड्डे में बुधवार को पहुंची थी। वहीं एयरपोर्ट अथॉरिटी की टीम भी उड़ान के पहले दिनभर तैयारियों में जुटी रही। उन्होनें जिला पुलिस बल के जवानों की जिम्मेदारी भी तय की थी और नयी मशीनों से उन्हें परिचित करवाते हुए इसके प्रयोग को लेकर जानकारी भी दी गई थी। सभी तैयारियों का जायजा लेने के बाद ही प्लेन को यात्रा के लिए ओके किया गया था।

दिनभर चली थी मॉनिटरिंग
इस एेतिहासिक पल के दौरान कोई गलती न हो जाए इसे देखते हुए पीडब्लूडी से लेकर तहसील व अन्य विभाग के अधिकारी दिनभर तैयारियों की मॉनिटङ्क्षरग करते रहे। वहीं कलक्टर खुद यहां मोर्चा संभालकर तैयारियों का जायजा ले रहे थे।

दोपहर में हुआ ट्रायल
शुभारंभ से पहले एयर ओडिशा के विमान का ट्रायल लिया गया। दोपहर करीब एक बजे इस विमान को रनवे में करीब 8 से 10 बार चलाकर ट्रायल लिया। वहंी दो से तीन बार पायलेट ने उड़ाकर भी देखा और इसे सुरक्षित लैंड कराया। तब जाकर आज के लिए प्लेन को तैयार माना गया।

ये हैं वो लोग जो कर रहें है प्लेन में सफर
रोमांच महसूस करूंगी
मैं देख नहीं सकती, लेकिन अक्सर दोस्तों से सुना है कि हवाई जहाज में बैठने में काफी अच्छा लगता है। वहीं रोमांच मैं महसूस करना चाहती हूं। जिला प्रशासन ने उन्हें इस ऐतिहासिक सफर की यात्री बनकर काफी खुश हूं।
गुरुवारी कनौज्या, छात्रा

नहीं हो रहा यकीन
मैंने जीवन में कभी हवाईयात्रा नहीं की है और कभी सोचा भी नहीं था कि हवाईयात्रा कर पाउंगी। अब जबकि यह सपना पूरा हो रहा है तो यकींन नहीं हो रहा है कि यह सपना है कि हकीकत।
हीरावती , अध्यक्ष महिला स्व सहायता समूह

सपने में सोचती थी
हवाई सफर करना एक सपने जैसा है। आज तक कभी यह सफर नहीं किया। अक्सर सपने में सोंचती थी कि यदि बड़ी अधिकारी बन जाउंगी तो एक बार हवाई सफर जरूर करूंगी।
इंदू नेताम, मेडिकल स्टूडेंट

सपने में नहीं सोचा था
मैं सपने में भी नहीं सोचा था कि कभी हवाई यात्रा कर पाउंगा। लेकिन जिला प्रशासन के प्रयास से यह सपना पूरा हो पाया।
यमुना प्रसाद, गुरुवारी का भाई

पक्का इरादा था
जीवन में एक पक्का इरादा कर रखी थी कि उधार लेकर भी करना पड़े तो हवाई यात्रा जरूर करूंगी।
दयमंती कश्यप, सरपंच, बालिकोंटा, जगदलपुर

सपना बना हकीकत
मैं अक्सर फिल्मों में प्लेन देखकर सोचता था कि इसमें एक बार जरूर बैठूंगा। अब यह सपना हकीकत बन है।
राहुल कुमार, छात्र

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned