सुकमा में फिर इस खतरनाक बीमारी ने दी दस्तक, कलक्टर ने जारी किया हाई अलर्ट

सुकमा में फिर इस खतरनाक बीमारी ने दी दस्तक, कलक्टर ने जारी किया हाई अलर्ट

Badal Dewangan | Publish: Oct, 14 2018 12:02:49 PM (IST) Jagdalpur, Chhattisgarh, India

जापानी इंसेफ्लाइटिस (जेइ) ने बस्तर के सुकमा में दस्तख दे दी है।

जगदलपुर. जापानी इंसेफ्लाइटिस (जेइ) ने बस्तर के सुकमा में दस्तख दे दी है। कुछ दिन पहले बीमार सुकमा के नागारास के कोठिगुड़ा इलाके में रहने वाले एक युवक की तबीयत बिगडऩे के बाद उसे पहले जिला अस्पताल फिर उसके बाद डिमरापाल मेेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। यहां जांच के बाद उसकी रिपोर्ट में उसे जापानी बुखार मे पॉजिटिव पाया गया। इसके पाद स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है।

जांच में वह जेइ पॉस्टिव पाया गया
कलक्टर सुकमा जेपी मौर्य ने सभी अस्पताल में अलर्ट जारी कर आवश्यक दिशा निर्देश जारी किए हैं। बताया जा रहा है कि नागारास के कोठिगुड़ा में रहने वाले इस युवक का परिवार ***** पालन करता था। इसी दो दिन पहले जब उसकी तबीयत बिगड़ी तो उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन यहां हालत में सुधार नहीं होता देख मेकॉज में भर्ती कराया गया। जहां जांच में वह जेइ पॉस्टिव पाया गया। इस बात की जानकारी जैसे ही जिला प्रशासन को लगी, उसने आवश्यक दिशा निर्देश जारी किए। वहीं इसके कारण का पता लगाने और इसकी रोकथाम के लिए बैठक लेकर जानकारी दी।

जिला प्रशासन ने जारी किए आवश्यक दिशा निर्देश
कोठीगुड़ा में 52 परिवार है, जिनकी संख्या 250 है। सभी लोग पालन काम से जुड़े हुए हैं। इलाके के सभी 500 से अधिक सूअरों को आवासीय क्षेत्र से 2 किमी दूरी पर विस्थापित करने के निर्देश दिए।

प्रभावित क्षेत्र के सभी घरों में फागिंग कार्य करने व स्थिति सामान्य होने तक नियमित रूप से फागिंग करने

डोर टू डोर सर्वे कर मरीजों के परीक्षण व उपचार और जेइ के संभावित मरीजों के रक्त नमूना एकत्र कर जांच के लिए मेकाज भेजने

जांच के लिए कॉम्बेट टीम गठित
कलक्टर जेपी मौर्य ने मामले की संवेदनशीलता को समझते हुए तुरंत कॉम्बेट टीम तैयार की जो इस इलाके में रोकथाम और अन्य मरीजों की जांच करेगी।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned