scriptDoors suddenly lock in a dilapidated ambulance | जर्जर एम्बुलेंस में अचानक लॉक हो जाते हैं दरवाजे | Patrika News

जर्जर एम्बुलेंस में अचानक लॉक हो जाते हैं दरवाजे

जिला हास्पिटल में बिगड़ी पड़ी 108 एंबुलेंस, जर्जर एम्बुलेंस में अचानक लॉक हो जाते है दरवाजे, मरीजो की जान सांतत में, बूढ़ी व बीमार एंबुलेंस पर मरीजों की जान बचाने का जिम्मा, पिछला दरवाजा नहीं खुलने से सामने की खिड़की से उतारने की मजबूरी

जगदलपुर

Published: June 26, 2022 12:43:59 am

दंतेवाड़ा . जिले में बूढ़ी हो चुकी व बीमार एंबुलेंस से मरीजों को आपात सेवा दी जा रही है। इसमें मरीजों के साथ ही एंबुलेंस में चलने वाले पायलट यानि ड्राइवर और ईएमटी की जान भी हमेशा जोखिम में रहती है। आपात सेवा 108 एंबुलेंस की दिनों दिन लचर होती जा रही स्थिति का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि जिला मुख्यालय में तैनात 3 एंबुलेंस में एक एंबुलेंस बिगड़ी हुई पड़ी है। वहीं, करीब 12 साल पुरानी एंबुलेंस के दरवाजे के लॉक नहीं खुलने से मरीजों को पिछले दरवाजे की बजाय ड्राइवर केबिन की तरफ वाले वेंटिलेटर यानि खिड़की से खींचकर उतारने की नौबत आती है। शनिवार को भी ऐसा ही एक वाकया सामने आया, जब बारसूर इलाके के हितामेटा से लाए गए बुजुर्ग मरीज गमीर को इसी वेंटिलेटर वाली खिड़की की तरफ से खींचकर निकालना पड़ा।
कहीं भी बिगड़ पड़ती है एंबुलेंस
आपातसेवा में इस्तेमाल हो रही टाटा विंगर और फोर्स मॉडल वाली कुछ गाड़ियों की हालत इतनी खराब है कि राह चलते बिगड़ जाती हैं, और दूसरी गाड़ी बुलाकर मरीजों को हास्पिटल शिफ्ट करना पड़ता है। कुछ माह पहले कटेकल्याण से मरीज लेकर आ रही एक एंबुलेंस में भी ऐसी ही स्थिति का सामना करना पड़ा था। एंबुलेंस बीच रास्ते में खड़ी हो गई। इसके बाद जिला हास्पिटल से दूसरी एंबुलेंस भेज कर मरीज को लाया गया था।
दो लाख किमी से ऊपर चल चुकी एंबुलेंस
दंतेवाड़ा जिले में आपात सेवा एंबुलेंस की शुरूआत वर्ष 2011 में हुई थी। शुरूआत में 4 एंबुलेंस मिले थे। फिलहाल जिले में कुल 6 एंबुलेंस उपलब्ध हैं, जिनमें कुछ पुरानी एंबुलेंस अब भी सेवा दे रही हैं, जो 2 लाख किमी से ऊपर चल चुकी हैं, लेकिन उनके मेंटेनेंस पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। शुरूआत में जीवीके ईएमआरआई कंपनी द्वारा बेहतरीन ढंग से आपात सेवा एंबुलेंस का संचालन किया जा रहा था, लेकिन वर्ष 2019 से जय अंबे एंबुलेंस सर्विस के हाथ यह सेवा चले जाने के बाद से स्थिति बिगड़ती चली जा रही है। हालात इतने खराब हैं कि कंपनी गाड़ी में आई खराबी को सुधारने की लागत की भरपाई संबंधित पायलट यानि ड्राइवर की जेब से करवा रही है। गाड़ियों की मरम्मत का काम दंतेवाड़ा के किसी लोकल वेंडर से करवाने की बजाय जगदलपुर से करवाया जाता है, जिससे बिगड़ी हुई एंबुलेंस के सुधर कर आने में 2-3 दिन या उससे ज्यादा समय लग जाता है।
जिला हास्पिटल में बिगड़ी पड़ी 108 एंबुलेंस
जिला हास्पिटल में बिगड़ी पड़ी 108 एंबुलेंस

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

शिमला में सेवाओं की पहली 'गारंटी' देने पहुंचेगी AAP, भगवंत मान और मनीष सिसोदिया कल हिमाचल प्रदेश के दौरे परममता बनर्जी के ट्विटर प्रोफाइल में गायब जवाहर लाल नेहरू की तस्वीर, बरसी कांग्रेसमुंबई पुलिस की बड़ी कार्रवाई, गुजरात के भरूच में पकड़ी ‘नशे’ की फैक्ट्री, 1026 करोड़ के ड्रग्स के साथ 7 गिरफ्तारभूस्खलन से हिमाचल में 100 से अधिक सड़कें ठप, चार दिन भारी बारिश का अलर्टबिहारः मंत्रियों में विभागों का बंटवारा, गृह मंत्रालय नीतीश के पास, तेजस्वी के पास 4 विभाग, तेज प्रताप का घटा कद, देखें ListVideo मध्यप्रदेश में बाढ़ के हालात, सात जिलों में राहत-बचाव का काम शुरू, लोगों को घरों से निकालाMaharashtra: खाने को लेकर कैटरिंग मैनेजर पर भड़के शिवसेना MLA संतोष बांगर, कर्मचारी को जड़ दिए थप्पड़कश्मीरी पंडित की हत्या मामले में सामने आई मनोज सिन्हा, महबूबा मुफ्ती व उमर अब्दुल्ला की प्रतिक्रिया, जानिए क्या कहा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.